पोषण दिवस:जिला स्तरीय पोषण दिवस पर महिलाओं को खानपान के महत्व की जानकारी दी

दौसा16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कृषि विज्ञान केंद्र परिसर में राष्ट्रीय पोषण दिवस पर एक दिवसीय जिला स्तरीय महिला संगोष्ठी कार्यक्रम हुआ। जिसमें जिले की 100 महिलाओं ने भाग लिया। महिलाओं को जानकारी देते हुए कृषि विज्ञान केंद्र प्रभारी डॉ बीएल जाट ने कहा कि महिलाओं को अपनी पोषण के लिए स्वयं जागरूक होना होगा। उन्होंने कहा कि परिवार के स्वास्थ्य सुधारने में महिलाओं की अहम भूमिका होती है। प्रतिदिन के आहार में पोषक तत्व जैसे कार्बोहाइड्रेट प्रोटीन वसा विटामिन खनिज लवण के अलावा आयरन कैल्शियम को अधिक से अधिक उपयोग लेना चाहिए। ग्रह वैज्ञानिक डॉक्टर बबीता डीग्वाल ने महिलाओ को जानकारी देते हुए कहा कि सहजन, मुनगा या सहजन आदि नामों से जाना जाने वाला सहजन पौधा औषधीय गुणों से भरपूर होता है । इसके अलग-अलग हिस्सों में 300 से अधिक रोगों के रोकथाम के गुण हैं। इसमें 92 तरह के मल्टीविटामिन्स, 46 तरह के एंटी आक्सीडेंट गुण, 36 तरह के दर्द निवारक और 18 तरह के एमिनो एसिड मिलते हैं। चारे के रूप में इसकी पत्तियों के प्रयोग मे लेने से पशुओं के दूध में डेढ़ गुना और वजन में एक तिहाई से अधिक की वृद्धि की जा सकती है । उन्होंने कहा कि यही नहीं इसकी पत्तियों के रस को पानी के घोल में मिलाकर फसल पर छिड़कने से उपज में सवाया से अधिक की वृद्धि होती है।

खबरें और भी हैं...