गर्मी का सितम, दोपहर में कर्फ्यू जैसे हालात:दौसा में 47 डिग्री पहुंचा पारा, हाईवे पर थमे वाहनों के पहिए

दौसा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दौसा के मेहंदीपुर बालाजी मंदिर रोड पर पसरा सन्नाटा। - Dainik Bhaskar
दौसा के मेहंदीपुर बालाजी मंदिर रोड पर पसरा सन्नाटा।

भीषण गर्मी ने जिले भर में जनजीवन प्रभावित कर दिया है। शनिवार सुबह से ही तेज धूप व गर्मी ने लोगों को बेहाल कर दिया। दोपहर 2 बजे अधिकतम तापमान 47 डिग्री व न्यूनतम 32 डिग्री सेल्सियस रेकार्ड किया गया। लू के थपेडों के चलते लोगों का घरों से बाहर निकलना भी दूभर हो रहा है। पंखे गर्म हवा फेंक रहे हैं तो कूलर में भी तेज गर्मी के कारण पानी की खपत बढ़ गई है।

हालात यह है कि शनिवार को सुबह 9 बजे के बाद से ही धूप ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया था। दोपहर होते-होते तापमान बढ़ जाने के कारण सड़कों पर सन्नाटे जैसे हालात बन गए। अधिकतम तापमान 47 डिग्री पर लगातार दूसरे दिन भी स्थिर रहा। इससे लोगों का अनुमान है कि शनिवार अब तक का सबसे गर्म दिन रहा। मौसम विभाग का मानना है कि फिलहाल अगले एक सप्ताह तक ऐसी ही गर्मी बनी रहेगी और पारा स्थिर रहेगा। दोपहर में चलने वाली गर्म हवाएं परेशान करेंगी।

प्रचंड धूप के कारण सुबह 11 बजे बाद से ही सड़कों पर आवाजाही कम होना शुरू हो जाता है जो कि दोपहर होते ही पूरी तरह थम जाता है। जिला मुख्यालय की सड़कों पर कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के अभ्यर्थियों की आवाजाही के चलते चहल-पहल देखी गई। वहीं बांदीकुई, लालसोट, सिकराय, सिकंदरा, महुवा, मंडावर में अघोषित कर्फ्यू जैसे हालात देखे जा रहे हैं। जयपुर-आगरा नेशनल हाईवे 21, अलवर-गंगापुर मेगा हाईवे व शाहपुरा-कौथनू हाईवे पर दोपहर के वक्त सन्नाटा देखा गया।