इंदिरा रसोई घर का शुभारंभ:बाड़ी में खुली दो और इंदिरा रसोई, विधायक मलिंगा बोले- गुणवत्ता के साथ कोई समझौता नहीं

बादी15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

प्रदेश में इंदिरा गांधी रसोई भोजन योजना का विस्तार किया गया है। पूर्व में संचालित रसोई घरों के अलावा विभिन्न कस्बों में जनसंख्या अनुपात के हिसाब से और रसोई घर बनाए गए हैं। ऐसे में योजना के तहत बाड़ी शहर में दो अलग-अलग स्थानों पर रविवार से इंदिरा रसोई घर शुरू किए गए है। इंदिरा रसोईघर का रविवार को विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा ने फीता काटकर उद्घाटन किया।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि अब गरीबों के लिए दो अलग-अलग स्थानों पर भोजन उपलब्ध कराया गया है। प्रदेश सरकार की मंशा है कि कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं सोना चाहिए। मात्र 8 रुपए में सुबह और शाम लोगों को भरपेट भोजन इन रसोई घरों में दिया जाएगा। जिसके लिए लोगों को परेशान नहीं होना पड़े। ऐसे में शहर के दो अलग-अलग सेंटरों पर यह रसोईघर संचालित किए गए हैं। जिनकी मॉनिटरिंग नगर पालिका द्वारा की जाएगी।

बाड़ी नगर पालिका के सफाई निरीक्षक सीताराम शर्मा ने बताया कि इंद्र रसोईघर योजना के तहत शहर के बसेड़ी रोड और मलिक पाड़ा के आमलीपाड़ा में दो और सेंटर स्वीकृत हुए हैं। जिनका संचालन रविवार से शुरू किया गया है।

कार्यक्रम के दौरान विधायक गिर्राज मलिंगा ने इंदर रसोईघर के स्टाफ और संचालक से स्पष्ट शब्दों में कहा कि गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं किया जाएगा। साथ में किसी प्रकार से खाने की क्वालिटी नहीं खराब होनी चाहिए।

इस दौरान चेयरमैन कमलेश देवी, नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी रामजीत सिंह, पार्षद राजवीर, ओमवीर जाट, जसवंत सिंह, हजारी सिंह, हरिदेव शर्मा सहित तमाम पदाधिकारी और शहर के गणमान्य नागरिक मौजूद रहे।

भोजन के लिए नहीं लगाना होगा 3 किमी का चक्कर

शहर में पूर्व में संचालित इंदिरा रसोई घर सरमथुरा रोड अंबेडकर भवन में चल रहा है। जो शहर से काफी दूरी पर है। ऐसे में कई स्थानों से वह तीन किमी की दूरी पर है। जिसके चलते लोगों को अब भोजन के लिए लम्बा चक्कर नहीं लगाना होगा। यह दोनों सेंटर शहर के बीचों-बीच स्थित है। ऐसे में लोगों को लाभ मिलेगा।

खबरें और भी हैं...