विधायक मलिंगा ने डिस्कॉम के एसई को बताया भ्रष्टाचारी:बोले-ड्यूटी करनी है तो काम करना होगा, आरोपों की जांच करा ले सरकार

बाड़ी4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

धौलपुर डिस्कॉम के अधीक्षण अभियंता वीएस गुप्ता द्वारा बाड़ी विधायक गिर्राज मलिंगा पर फोन पर धमकी देने का आरोप लगाया है। इसको लेकर अपने विभाग के उच्चाधिकारियों को पत्र लिखने के साथ धौलपुर जिला कलेक्टर को भी पत्र लिखकर शिकायत की है।

बाड़ी विधायक 10 महीने पहले 28 मार्च को बाड़ी डिस्कॉम के AEN-JEN से मारपीट मामले में भी चर्चा में आए थे। मलिंगा के खिलाफ इस केस में IPC की धारा 307 जोड़ी गई थी। AEN के शरीर के अलग-अलग हिस्सों में 22 फ्रैक्चर आए थे।

वहीं, धमकी देने की मामले को लेकर विधायक गिर्राज मलिंगा से बात की गई तो उन्होंने इसका खंडन किया। उन्होंने कहा कि जनता के कामों के लिए किसी भी विभाग में किसी भी अधिकारी को कभी भी फोन कर सकते हैं। डिस्कॉम के एसई को जो फोन किया था वह भी काम से जुड़ा था। जिसको वह धमकी मान रहे है। इसकी जांच करा सकते है। उससे पहले सरकार को धौलपुर डिस्कॉम के अधीक्षण अभियंता बीएस गुप्ता के कार्यों की जांच करानी चाहिए जो पूरी तरह भ्रष्टाचार में डूबे हुए हैं। विधायक ने कहा कि यदि एसई को धौलपुर में ड्यूटी करनी है तो काम करना होगा।

विधायक ने की आरोपी की बौछार

विधायक मलिंगा ने बताया कि धौलपुर के डिस्कॉम में एसई गुप्ता ने भ्रष्टाचार फैला रखा है। मेंटेनेंस के नाम पर घोटाला किया जा रहा है। तारों को दूसरे प्रदेश में ले जाकर बेचा जाता है। लोगों की वीसीआर भरकर सेटलमेंट के नाम पर ठगा जा रहा है। जिसकी जांच होनी चाहिए। विधायक ने कहा कि सैपऊ और बाड़ी में बन रहे रिंग रोड बाइपास में बिजली के खंभों को स्थानांतरित करना था। जिसका पैसा भी ट्रांसफर हो गया, लेकिन एसई ने हठधर्मिता अपना रखी है। जिसको लेकर वे कई बार फोन कर चुके हैं। वहीं, उन्होंने कहा कि मैंने काम के लिए फोन किया, कोई धमकी नहीं दी। धमकी दी है तो सरकार इसकी जांच करा ले, लेकिन उससे पहले ऐसी के कामों की जांच होनी चाहिए।

2 जनवरी को किया था फोन

गौरतलब है कि धौलपुर अधीक्षण अभियंता बीएस गुप्ता ने आरोप लगाया कि विधायक मलिंगा ने 2 फरवरी को फोन पर उन्हें किसी लाइनमैन के ट्रांसफर करने को कहा साथ में धमकी भी दी। जिसको लेकर उन्होंने धौलपुर कलेक्टर के साथ जयपुर डिस्कॉम के एमडी, एसपी और संभागीय मुख्य अभियंता को शिकायती पत्र लिखा है।

धौलपुर अधीक्षण अभियंता वीएस गुप्ता ने कहा कि मैंने अपनी शिकायत को लेकर विद्युत निगम के उच्च अधिकारियों और प्रशासन को पत्र लिखा है। निर्देशों के अनुसार आगे की कार्रवाई की जाएगी।

वहीं, ​​​​​​धौलपुर कलेक्टर अनिल अग्रवाल ने कहा कि अधीक्षण अभियंता ने जो शिकायत की है उसकी जांच की जा रही है।