• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Dholpur
  • About Three Crore Rupees Were Spent On Them, ICU Of 10 Beds Built In The District Hospital, Will Not Have To Be Referred In Critical Condition

दिल्ली के एम्स जैसी सुविधाएं:इन पर खर्च हुए करीब तीन करोड़ रुपए, जिला अस्पताल में बना 10 बेड का आईसीयू, गंभीर हालत में प्रसूता नहीं करनी पड़ेंगी रैफर

धौलपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

स्वतंत्रता सेनानी मंगल सिंह जिला अस्पताल में दिल्ली एम्स के मापदंडों और सुविधायुक्त आईसीयू तैयार हो गया है। अगले कुछ दिनों में इसे स्टाफ की नियुक्ति के बाद इसे विधिवत चालू कर दिया जाएगा। इस आईसीयू में प्रसव में बाद गंभीर स्थिति हाेने वाली प्रसूताओं काे रखने की सुविधा रहेंगी। जिला अस्पताल के प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ. समरवीर सिंह सिकरवार ने बताया कि 10 बेड्स के इस आईसीयू में सभी अत्याधुनिक उपकरण और सुविधाएं विकसित की गई है।

इस आईसीयू को ट्रंकी बेसिस पर तैयार किया गया है। आईसीयू के निर्माण के साथ-साथ सभी उपकरण और आवश्यकताएं एक ही ग्रुप द्वारा विकसित की गई। जिससे किसी तरह की परेशानी ना हो, साथ ही एक एजेंसी होने से भविष्य की परेशानियों को आसनी से निपटाया जा सकेगा। स्वतंत्रता सेनानी मंगल िसंह जिला अस्पताल का सबसे पुराना अस्पताल है। इस अस्पताल में मौजूदा आईसीयू काफी पुराने है. जिन्हें लगातर अपडेट किया जाता है।

ऐसे में दस बेड्स के नए आईसीयू की पूरी नई विंग के क्रियान्वयन होने के बाद लोगों को काफी राहत होगी। आईसीयू के जरिए गर्भवती महिलाओं के प्रसव हाेने के बाद गंभीर स्थिति हाेने पर इलाज दिया जा सकेगा। इससे पूर्व जिला अस्पताल में प्रसव के दाैरान प्रसूता की स्थिति बिगड़ने के बाद रैफर किया जा रहा था। इस आईसीयू के बाद महिलाओं काे जिला अस्पताल में ही आधुनिक मशीनाें के माध्यम से उच्च स्तरीय इलाज मिल सकेगा। प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डाॅ. समरवीर सिंह ने बताया कि जिला अस्पताल में तीन कराेड़ की लागत से 10 बैड के आईसीयू को ट्रंकी बेसिस पर तैयार किया गया है।

खूबियां से भरा है आईसीयू
आईसीयू के प्रत्येक बेड पर मोटराइज्ड एयर मैट्रेस, हाईएंड वेंटिलेटर, मल्टी पैरा मॉनिटर, इंफ्यूजन पम्प, प्रत्येक मरीज की मॉनिटरिंग के लिए सेंट्रलाइज मॉनिटरिंग सिस्टम के साथ-साथ सोनोग्राफी, एक्स-रे और ब्रोंकोस्कोपिक जैसे उपकरण भी लगाए गए हैं। यहां नर्सिंग स्टेशन, सेमिनार हॉल और डॉक्टर्स के लिए ई लाइब्रेरी बनाई गई है।

खबरें और भी हैं...