राष्ट्रीय मतदाता दिवस:स्कूल-कॉलेज व कार्यालयों में सभी ने ली शपथ, बोले- मतदान जरूर करेंगे हम

धौलपुर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

निर्वाचन आयोग की ओर से नगर परिषद सभागार में हुआ जिलास्तरीय कार्यक्रम, लोगों को बताई मतदान संबंधी अहम जानकारी भारत निर्वाचन आयोग एवं राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार 13वें राष्ट्रीय मतदाता दिवस का जिला स्तरीय समारोह नगर परिषद सभागार में उप जिला निर्वाचन अधिकारी सुदर्शन सिंह तोमर की अध्यक्षता में किया गया। समारोह की शुरूआत भारत के मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार के वीडियो संदेश का प्रसारण कर की गई।

मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने मतदाता दिवस की पृष्ठभूमि के बारे में बताते हुए कहा कि 25 जनवरी 1950 को भारत निर्वाचन आयोग की स्थापना हुई थी इसलिए इस दिन के महत्व को बनाये रखने के लिए मतदाता दिवस मनाया जाता है। उन्होंने बताया कि अब 18 वर्ष से कम उम्र के नागरिक मतदाता बनने हेतु अग्रिम आवेदन कर सकते हैं और जैसे ही ये नागरिक 18 वर्ष की उम्र पूर्ण करेंगे उनका मतदाता पहचान पत्र डाक द्वारा उनके पते पर प्रेषित कर दिया जाएगा।

उप जिला निर्वाचन अधिकारी सुदर्शन सिंह तोमर ने कहा कि अब पहले के बजाय मतदाता बनने के लिए नागरिकों को प्रत्येक वर्ष में त्रैमासिक अवधि 1 जनवरी, 1 अप्रैल, 1 जुलाई, 1 अक्टूबर को 18 वर्ष की आयु पूर्ण करने पर 4 अवसर मिलते हैं। उन्होंने बताया कि दिव्यांग मतदाताओं के लिए निर्वाचन आयोग द्वारा सक्षम एप बनाया गया है जिस पर उन्हें विशेष सुविधायें मिलती हैं।

उन्होंने कार्यक्रम में मतदाता का क्या महत्व है इस पर प्रकाश डालते हुए कहा कि सभी मतदाता बने, सशक्त, सजग, सुरक्षित एवं जागरूकता के साथ अपने मताधिकार का प्रयोग करें। उन्होंने कहा कि प्रत्येक मत महत्वपूर्ण है और कोई मतदाता ना छूटे इसके लिए जिले में मतदाता पुनरीक्षण कार्यक्रम 2023 के अंतर्गत व्यापक अभियान चलाकर नवीन मतदाताओं एवं दिव्यांग मतदाताओं सहित अन्य वंचित मतदाताओं को जोड़ा गया। जिससे जिला एक बार फिर सिरमौर बना। चुनाव के दिन युवा मतदाता घर पर नहीं रहें बल्कि मतदान केन्द्र पर जाकर अपने मत का प्रयोग करें। 17 वर्ष के बालक-बालिकाएंे 18 वर्ष के होने जा रहें है उनको भी प्रेरित करें।

खबरें और भी हैं...