ग्रामीणों ने ठेकेदार को किया पाबंद:दो दिन में पानी की सप्लाई के किए वादे, 5 दिन में 1 बार मिल रहा पानी

आसपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

उपखंड क्षेत्र के ग्राम पंचायत भेवडी में करीब एक हजार की आबादी है। जहां पर पेयजल के लिए पानी की टंकी बनाई गई है, लेकिन ठेकेदार की लापरवाही के चलते पानी नहीं भरने के कारण 4 से 5 दिन में एक बार पेयजल की सप्लाई की जा रही है। इससे ग्रामीण परेशान है।

ग्राम पंचायत भेवडी में पेयजल सप्लाई के लिए ग्राम पंचायत के पास फ्लोराइड मुक्त पेयजल के लिए पानी की टंकी बनाई गई है, लेकिन पांच दिन में सप्लाई हाेने से जल संकट की स्थिति बनी हुई है। लाेगाें के राेजमर्रा के कार्य प्रभावित हाे रहे हैं। कतिसौर पंप हाउस से पानी झाकरी में बनी टंकी में चढ़ाया जाता है। झाखरी से पानी को भेवड़ी की टंकी में डाला जाता है।

इस टंकी से गांव में पानी सप्लाई के लिए तीन जगह प्वाइंट बनाए गए हैं। इससे गांव के लोग पानी भरते हैं। इस टंकी में ठेकेदार द्वारा समय समय पर पानी भरना व सप्लाई करना होता है। लेकिन ठेकेदार द्वारा समय पर पानी नहीं भरने के कारण गांव के लोगों को 4 से 5 दिन में 1 बार पानी नसीब हो रहा है। इससे पानी के लिए त्राहिमाम मची हुई है।

वही भेवड़ी के नाले में पूर्व में अस्थाई प्याऊ लगाया गया था। इससे गांव के वाशिंदे पानी भरते हैं। लेकिन इस प्याऊ में पानी भरने के लिए सवेरे से ही लाइन लगानी पड़ती है। घंटों खड़े रहने के बाद पेयजल उपलब्ध हो पाता है। इधर जिला कलेक्टर की समीक्षा बैठक में पीएचईडी विभाग के अधिकारियों द्वारा क्षेत्र में 2 दिन में पेयजल उपलब्ध करने के वादे किए गए हैं। ऐसे में ग्रामीण खासे परेशान हैं।

ग्रामीणों ने ठेकेदार को पाबंद कर 2 दिन में पानी सप्लाई करने की मांग की है। ग्रामीणाें ने बताया कि पीने के पानी की व्यवस्था जैसे तैसे भी कर रहे हैं। लेकिन यहां पर कोई ऐसा स्त्रोत नहीं है जिससे हमारे पशुओं के पानी की व्यवस्था कर सकें। पीएचइडी आसपुर के सहायक अभियंता कोदरलाल मीणा का कहना है कि मैं ठेकेदार से अभी बात कर रहा हूं। वैसे ऐसा होना नहीं चाहिए।

खबरें और भी हैं...