MLA घोघरा का कांग्रेस में विरोध:प्रधान और नेता बोले- SDM समेत अफसरों को बंद करना गलत

डूंगरपुर7 महीने पहले
SDM और अन्य सरकारी कार्मिकों को बंधक बनाने के मामले में विधायक गणेश घोघरा का कांग्रेस में भी विरोध होने लगा है।

SDM और अन्य सरकारी कार्मिकों को बंधक बनाने के मामले में डूंगरपुर विधायक गणेश घोघरा की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं। मामले को लेकर भाजपा के बाद अब कांग्रेस के कुछ नेता भी विधायक के विरोध में उतर आए हैं।

डूंगरपुर विधानसभा की बिछीवाड़ा पंचायत समिति से कांग्रेस प्रधान देवराम रोत, डूंगरपुर के पूर्व विधायक लालशंकर घटिया की पत्नी एवं पूर्व प्रधान राधा देवी घाटिया ने विधायक गणेश घोघरा पर दबाव की राजनीति करने के आरोप लगाए है। प्रधान देवराम रोत और पूर्व प्रधान राधादेवी घटिया ने अधिकारियों को बंधक बनाने की घटना को गलत बताया। उन्होंने कहा कि शासन और प्रशासन दोनों एक सिक्के के दो पहलू हैं। इस घटना के बाद शासन और प्रशासन के बीच दरार पैदा हो गई है, जिससे सरकार की योजनाओं को धरातल पर लागू करने में मुश्किलें पैदा होंगी। प्रधान देवराम रोत ने कहा कि विधायक गणेश घोघरा को ऐसा कदम उठाने से पहले उच्च अधिकारियों ओर कांग्रेस के मंत्रियों और वरिष्ठ नेताओं से बातचीत करनी चाहिए थी।

देवराम रोत ने कहा कि अधिकारियों को बंधक बनाने, विधायक गणेश घोघरा द्वारा इस्तीफा भेजने और विधायक के खिलाफ मुकदमा दर्ज होने जैसी घटनाओं से कांग्रेस पार्टी को बड़ा नुकसान हुआ है। वहीं, राज्य सरकार की छवि भी धूमिल हुई है। प्रधान देवरा देवराम और पूर्व प्रधान राधादेवी घाटिया ने डूंगरपुर विधायक गणेश घोघरा पर पिछले 3 सालों के दौरान क्षेत्र के पूर्व जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा के भी आरोप लगाए।