रेप के बाद नाबालिग लड़की का मर्डर:न्यूड बॉडी मिली, प्रावइेट पार्ट से हो रही थी ब्लीडिंग; पूर्व सरपंच के पोते पर FIR

डूंगरपुर7 महीने पहले
नाबालिग के शरीर पर चोट के निशान मिलने पर परिजनों और ग्रामीणों ने रेप और मर्डर का आरोप लगाया है।

घर से लापता 10 साल की लड़की की न्यूड डेड बॉडी करीब 12 घंटे बाद मिली है। उसके प्राइवेट पार्ट से खून निकल रहा था। उसके शरीर पर कई जगह चोट के निशान थे। बॉडी जहां मिली है, वहां पर पूर्व सरपंच का पोता बीयर की बोतल लिए गांव वालों को दिखा था। इसलिए परिवार वालों ने उस पर रेप और हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। साथ ही, उसकी गिरफ्तारी नहीं होने तक नाबालिग की बॉडी उठाने से इनकार कर दिया है। पुलिस ने पोस्टमॉर्टम करा दिया है, पर परिवार वालों ने शव नहीं लिया है। गांव वालों ने हॉस्पिटल में जमकर हंगामा भी किया है। पूरा मामला डूंगरपुर के सदर थाना क्षेत्र का है।

परिजन और ग्रामीण आरोपी की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े हैं। पोस्टमॉर्टम होने के बाद भी परिवार वालों ने बॉडी लेने से इनकार कर दिया है।
परिजन और ग्रामीण आरोपी की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े हैं। पोस्टमॉर्टम होने के बाद भी परिवार वालों ने बॉडी लेने से इनकार कर दिया है।

परिवार के साथ सोई थी आंगन में
डूंगरपुर के DSP राकेश कुमार शर्मा ने बताया- बुधवार को एक महिला ने सदर थाना में अपनी 10 साल की बेटी के किडनैप होने की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। उसने बताया कि मंगलवार रात को खाना खाने के बाद बेटी अपने भाई के साथ घर के आंगन में सोई थी। मां और सबसे छोटा भाई अलग सो रहे थे। सबसे बड़ा बेटा अलग चारपाई पर सोया था। बुधवार सुबह वह उठी तो नाबालिग बेटी चारपाई पर नहीं थी। उसने बेटी के बाहर जाने की बात सोचकर ध्यान नहीं दिया। घंटेभर बाद भी वह वापस नहीं आई तो परिवार के लोग उसको ढूंढ़ने लगे। काफी तलाश के बाद भी उसका सुराग नहीं लगा।

देर शाम पुलिया के नीचे मिला शव
बुधवार देर शाम को गांव के पास पुलिया के नीचे नाले में नाबालिग लड़की का शव पड़ा मिला। वहां लोगों की भीड़ जमा हो गई। परिवार वाले भी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शव कब्जे में लिया। नाबालिग के शरीर पर कपड़े नहीं थे और प्राइवेट पार्ट से खून बहने के साथ ही शरीर पर चोटों के निशान थे।

नाबालिग की मां ने सदर थाने में किडनैप का मामला दर्ज कराया था, जिसमें अब मर्डर की धारा भी जोड़ी गई है।
नाबालिग की मां ने सदर थाने में किडनैप का मामला दर्ज कराया था, जिसमें अब मर्डर की धारा भी जोड़ी गई है।

पूर्व सरपंच के पोते पर रेप और मर्डर का शक
डूंगरपुर के DSP राकेश कुमार शर्मा ने बताया- एक ग्रामीण ने बताया कि उसने बुधवार सुबह पुलिया के पास गांव के पूर्व सरपंच लक्ष्मण कटारा के पोते जितेन्द्र कटारा (32) पुत्र नारायण कटारा को देखा था। इसके बाद लड़की के परिजनों ने पूर्व सरपंच के पोते पर नाबालिग का रेप करने और मर्डर करने का आरोप लगाया। आरोपी जितेंद्र शादीशुदा है। उसके 2 बच्चे हैं। पुलिस ने मौके से नाबालिग का शव उठवाकर डूंगरपुर अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया है। परिजनों ने आरोपी की गिरफ्तारी के बाद ही पोस्टमॉर्टम करवाने की बात पर अड़ गए और हंगामा कर दिया। काफी देर तक पोस्टमॉर्टम इसी के चक्कर में नहीं हो पाया। गुरुवार शाम 4 बजे पोस्टमॉर्टम हुआ है। परिवार वालों ने अब भी बॉडी नहीं उठाई है।

खेतीबाड़ी का काम करता है आरोपी
नाबालिग से रेप कर हत्या के मामले में आरोपी जितेंद्र कटारा खेतीबाड़ी का काम करता है। उसकी पत्नी टीएडी की ओर से संचालित मां बाड़ी केंद्र चलाती है। उसके 2 बच्चे हैं, जिसमें एक बेटा 6 साल का है और बेटी 4 साल की हैं।