शहर में एक और सागवाड़ा में:दो इंदिरा रसोईघर का वर्चुअल उद्घाटन , 8 रुपए में मिलेगा भोजन खाना

डूंगरपुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोई भूखा ना सोएं की मंशा के साथ रविवार को वर्चुअल माध्यम से शहर के रेती स्टैंड सहित प्रदेश में 512 इंदिरा रसोई का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि इंदिरा रसोई योजना का मुख्य उद्देश्य मेरे प्रदेश में कोई भूखा ना सोएं और वहीं किसी भी व्यक्ति को खुले में खड़े रहकर,

धूप, बारिश, गंदगी में नहीं वरन सम्मान पूर्वक बैठकर खाना मिले और इसी का मूर्त रूप हैं इंदिरा रसोई। उन्होंने सभी रसोई घर संचालकों से भी अपील की कि केवल खाना खिलाना ही पर्याप्त नहीं है वरन प्रेम से आतिथ्य और आवभगत करते हुए मेजबानी करें।

जिला मुख्यालय पर रेती स्टैंड के समीप आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम में वर्चुअल माध्यम से संपूर्ण कार्यक्रम का प्रसारण किया गया। कार्यक्रम के दौरान बतौर अतिथि जिला कलेक्टर डॉ इंद्रजीत यादव, एडीएम हेमेंद्र नागर, उप जिला प्रमुख सुरता परमार,

उपसभापति सुदर्शन जैन, मुस्कान सेवा संस्थान के निदेशक भरत नागदा, नगरपरिषद प्रभारी आयुक्त विकास लेघा, समाजसेवी मुश्ताक मलिक आदि उपस्थित रहे। कलेक्टर ने कहा कि इसमें केवल आठ रुपए में एक समय का भरपेट स्वादिष्ट और पौष्टिक भोजन प्राप्त होगा बता दें, शहर में अब आठ इंदिरा रसोई का संचालन प्रमुख स्थानों पर किया जाएगा। रेती स्टैंड, नाना भाई पार्क, सिंटेक्स चौराहा, उत्तम सेवा मार्ग और जिला अस्पताल में इन्दिरा रसोई का संचालन रविवार से शुरू कर दिया है। संचालन अमरीश पहाड़ ने किया।

सागवाड़ा| गोल चौराहे के पास और उपजिला अस्पताल परिसर में इंदिरा रसोई का शुभारंभ किया। इस अवसर पर नगरपालिका अध्यक्ष नरेंद्र खोड़निया चंद्रशेखर संघवी, उपाध्यक्ष राजू मामा, पार्षद प्रदीप जोशी, प्रतिपक्ष नेता हरीश सोमपुरा, मौजूद रहे। ।

इंदिरा रसोई में सुबह साढ़े आठ बजे से दोपहर दो बजे तक और शाम को पांच बजे से रात आठ बजे तक मात्र आठ रुपए में पौष्टिक एवं स्वादिष्ट भोजन मिलेगा। गोल चौराहे पर इंदिरा रसोई योजना के शुभारंभ अवसर पर घाटोल के एसडीएम भीलूड़ा निवासी विजयेश पंड्या ने जन्मदिन पर 120 कूपन का भुगतान किया।

खबरें और भी हैं...