पल्स पोलियो अभियान:नौनिहालों ने गटकी दो बूंद जिन्दगी की, आज स्वास्थ्य कर्मी घराें में जाएंगे

डूंगरपुर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

उप राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान के तहत रविवार को जिलेभर में नौनिहालों को बूथों पर पोलियो रोधी दवा पिलाई गई। अभियान के प्रथम चरण की शुरूआत रविवार को जिला मुख्यालय पर पुराना अस्पताल सीएचसी को प्रथम पोलियो बूथ के रूप में बनाया गया। पोलियो बूथ को बच्चो को आकर्षित करने के लिए गुब्बारों से सजाया गया।

पल्स पोलियो अभियान का शुभारंभ उप जिला प्रमुख सुरता परमार ने नौनिहालों को दो बूंद जिन्दगी की पोलियो ड्राप पिला कर किया। उन्होंने कहा कि पोलियो की हर खुराक 0 से 5 वर्ष के बच्चो के लिए जरूरी है इसे अवश्य पिलाए। यह खुराक बच्चों के लिए सुरक्षा चक्र का कार्य करती है।

इस दौरान सीएमएचओ डॉ कांतिलाल पलात, आरसीएचओ डॉ अलंकार गुप्ता, एडिशनल सीएमएचओ डॉ विपिन मीणा व जिला अस्पताल से पूर्व पीएमएमओ डॉ कांतिलाल मेघवाल, शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ गौरव यादव, मनीष शर्मा, मनोज सेनी आदि उपस्थित रहे। अभियान के प्रथम दिन रविवार को बूथों पर जिन बच्चों ने पोलियो की ड्रॉप्स नहीं पी, ऐसे बच्चों को चिकित्सा विभाग की टीम सोमवार को घर घर जाकर पोलियो ड्रॉप्स पिलाएंगे। अभियान का यह क्रम तीसरे दिन मंगलवार को जारी रखते हुए स्वास्थ्य कर्मी घरों पर जाकर पोलियो प्रतिरक्षा की खुराक बच्चों को पिलाएंगे।

खबरें और भी हैं...