37 लाख का तेल बेचा, 2 आरोपी भाई गिरफ्तार:हनुमानगढ़ से गुजरात भेजा था 37 लाख का कॉटन तेल

हनुमानगढ़5 महीने पहले
हनुमानगढ़ जंक्शन पुलिस ने तेल टैंकर से लाखों का तेल रास्ते में बेचने वाले दो आरोपी भाइयों को गिरफ्तार किया है।

हनुमानगढ़ जंक्शन पुलिस ने तेल टैंकर से लाखों का तेल रास्ते में बेचने वाले दो आरोपी भाइयों को गिरफ्तार किया है। हनुमागढ़ जंक्शन स्थित रीको से 24 मई को कॉटन तेल का टैंकर गुजरात भेजा गया था, जो रास्ते में ही गायब हो गया था। गायब हुए तेल की कीमत करीब 37 लाख रुपए थी।

ASI मूसे खान ने बताया कि 30 मई 2022 को पवन कुमार मित्तल पुत्र मोहनलाल निवासी 74 ई ब्लाक सिरसा ने सिटी थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। रिपोर्ट में बताया कि मेरी फर्म मैसर्स अग्रवाल ऑयल एण्ड जनरल मिल सिरसा के द्वारा मैसर्स गुरबक्श राय कॉटन इण्डस्ट्रीज डी 1-2 औद्योगिक क्षेत्र फेज प्रथम हनुमानगढ़ जंक्शन से ब्रोकर केशव निवासी हनुमानगढ़ के जरिये कॉटन सीड ऑयल खरीद किया गया। 24 मई को ट्रांसपोर्ट के जरिये टैंकर से 232.65 क्विंटल कॉटन सीड ऑयल जिसकी कीमत 36 लाख 82 हजार 559 रुपए थी, जो कि मैसर्स एन. के. प्रोटीन्स प्रा.लि. कढी गुजरात के लिए रवाना किया गया था, लेकिन वो रास्ते मे से ही खुदबुर्द कर दिया गया। जांच अधिकारी मुसे खान ने बताया कि इस मामले में पुलिस ने 2 जून को ही टैंकर को बरामद कर लिया था। इस मामले में दो सगे भाइयों राणाराम और सुमेराराम पुत्र उम्मेदाराम निवासी बाड़मेर को गिरफ्तार किया है। उसके बाद टैंकर के ड्राइवर की तलाश थी पुलिस पूछताछ में सामने आया कि टैंकर ड्राइवर राणाराम नहीं बल्कि सुमेराराम था।

हमशक्ल होने का उठाया था फायदा
दोनों भाइयों की शक्ल मिलती जुलती है, जिसका फायदा उठाकर सुमेराराम अपने भाई राणाराम का ड्राइविंग लाइसेंस का इस्तेमाल करता है। पुलिस ने दोनों को ढूंढ़ने के लिए जोधपुर, बाड़मेर ओर बालोतरा उनके ठिकानों पर दबिश दी तो बालोतरा के पास से दोनों भाइयों को दस्तयाब कर लिया। एएसआई मूसे खान ने बताया कि प्रारम्भिक पूछताछ में दोनों भाइयों ने पुलिस को बताया कि उन्होंने तेल रास्ते में किसी को बेच दिया और टैंकर सीज हो गया, जिसके बाद हम टैंकर छोड़कर फरार हो गए। पुलिस ने बताया कि सोमवार को दोनों भाइयों को कोर्ट में पेश कर रिमांड लिया जाएगा ताकि उनसे माल की बरामदगी करवाई जा सके और इस मामले में और कौन-कौन साथ था उसका पता लगाया जा सके।