नोहर दंगों के विरोध में विहिप सोमवार को देगी धरना:महिला कार्यकर्ता CM को भेजेंगी राखियां, सुरक्षा की करेंगी मांग

हनुमानगढ़9 दिन पहले
हनुमानगढ़ जिला मुख्यालय पर विहिप और बजरंग दल के पदाधिकारी प्रेस वार्ता में राज्य सरकार, जिला प्रशासन और पुलिस पर जमकर बरसे।

हनुमानगढ़ जिला मुख्यालय पर विहिप और बजरंग दल के पदाधिकारी प्रेस वार्ता में राज्य सरकार, जिला प्रशासन और पुलिस पर जमकर बरसे। विहिप के जोधपुर प्रान्त के संगठन मंत्री ईश्वर लाल ने आरोप लगाए हुए कहा कि पुलिस व प्रशासन ने मिलकर समुदाय विशेष को सुरक्षा कवच देने का काम किया है।नोहर मामले में पुलिस द्वारा किये गए मुकदमों को गलत बताते हुए कहा कि एक तरफ समझौता की बात करते रहे और दूसरी ओर खुद ही वादाखिलाफी करते रहे।

विहिप नेता ईश्वरलाल ने कहा कि नोहर में जहां विवाद हुआ वहां रामदेव बाबा का मंदिर बना हुआ है। वहां पर आने वाली हिन्दू औरतों और लड़कियों के साथ समुदाय विशेष के लोग छेड़छाड़ और फब्तियां कसते थे। उस दिन भी वहां एक महिला अपने पति के साथ मंदिर आई थी तो समुदाय विशेष के लोगो ने छेड़छाड़ की। जब विहिप के नेता समझाइश के लिए गए तो उसका सिर फोड़ दिया।

विहिप ने प्रेस वार्ता में कहा कि विहिप नेता तो सिर्फ समझाइश के लिए गया लेकिन समुदाय विशेष के 60-70 लोगो ने लाठियों-डंडो से हमला कर दिया। वो लाठियां डंडे कहां से आए। विहिप पदाधिकारियों ने कहा कि हमला उनकी तरफ से हुआ था ना कि हमारी तरफ से। पुलिस ने सरकार को खुश करने के लिए हमारे 27 लोगों गिरफ्तार किया जो गलत है।

प्रेस वार्ता में विहिप नेता आशीष पारीक ने कहा कि पुलिस ने 2 लीटर पेट्रोल को इस तरीके से पेश किया जैसे कि 200 लीटर पेट्रोल या 200 किलो RDX मिला हो। जिससे कि पूरा शहर जलाया जा सकता है। पुलिस ने जानबूझकर मुकदमे बनाए जिसकी विहिप और बजरंग दल कड़े शब्दों में निंदा करता है। विहिप नेता आशीष पारीक बोले कि अगर हमारे संगठन का उद्देश्य दंगे करना या जवाबी कार्रवाई करना होता तो हम थाने के बाहर आकर विरोध-प्रदर्शन नहीं करते बल्कि उसी मोहल्ले में जाकर हम भी वैसा ही करते जैसा उन्होंने हमारे नेता के साथ किया था। लेकिन पुलिस ने गाड़ी से लाठियां बरामद मामले को भी अलग ऐंगल से दिखाने का प्रयास किया। प्रेस वार्ता में प्रान्त संगठन मंत्री बोले कि हम सिर्फ संवैधानिक तरीके से विरोध-प्रदर्शन कर रहे थे लेकिन पुलिस ने लाठीचार्ज किया और हमारे कार्यकर्ताओ पर गलत मुकदमे दर्ज किए।

विहिप नेता ईश्वरलाल ने कहा कि अब विहिप और बजरंग दल सोमवार को प्रत्येक उपखंड और जिला मुख्यालय पर सुबह 10 से 12 बजे तक धरना देकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपेगी। ज्ञापन में हम सभी बातों का जिक्र करते हुए राज्यपाल तक सरकार कीऔर प्रशासन की गलत नीतियों को पहुंचाने का काम करेंगे। नोहर विवाद को आगे लड़ने के सवाल पर विहिप और बजरंग दल नेता बोले की अन्याय के खिलाफ सवैधानिक तरीके से लड़ना प्रत्येक नागरिक का हक है और हम भी संघर्ष जारी रखेंगे। विहिप के प्रांत संगठन मंत्री ईश्वरलाल ने कहा कि विहिप और बजरंग दल की महिला विंग और दुर्गा वाहिनी भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को राखियां भेजेगी और खुद की सुरक्षा की मांग करेगी।