पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती मनाई:एकात्म मानव दर्शन के प्रणेता थे पंडित दीनदयाल उपाध्याय

बामनवास2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पिपलाई के आदर्श विद्या मंदिर में बुधवार को पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती मनाई गई। कार्यक्रम भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ता केदार लाल मीणा की अध्यक्षता में हुआ जिसमें उन्होंने पंडित दीनदयाल के चित्रपट के समक्ष दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि भारतीय चिंतन परंपरा में दीनदयाल उपाध्याय का विशेष स्थान है।

उन्होंने पाश्चात्य संस्कृति के स्थान पर भारतीय जीवन पद्धति में समाहित एकात्म मानववाद को आधुनिक ढंग से प्रस्तुत किया। पंडित दीनदयाल का मानना था कि भारत के लिए एक स्वदेशी आर्थिक मॉडल विकसित करना अत्यंत महत्वपूर्ण है जिसमें व्यक्ति केंद्र में हो उनके इस दृष्टिकोण ने इस अवधारणा को समाजवाद और पूंजीवाद से अलग बना दिया। वे देश के नवनिर्माण की बजाय पुनर्निर्माण पर जोर देते थे।

खबरें और भी हैं...