पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

योजना:तारबंदी अनुदान के लिए अब 3 किसान व 12 बीघा जमीन होना जरुरी

बांदीकुई14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • पहले 5 किसान व 40 बीघा का था नियम, मिलेंगे 40 हजार रुपए, खेतों की आवारा पशुओं से होगी सुरक्षा

केंद्र व राज्य सरकार द्वारा किसानों के लिए शुरु की गई तारबंदी योजना का लाभ लेने के लिए नियमों में कुछ बदलाव किया गया है। पहले इस योजना के लाभ के लिए 5 किसान व 40 बीघा जमीन का होना जरुरी था। लेकिन नए नियम में 3 किसान व 12 बीघा जमीन का होना जरुरी है। सरकार किसान को 40 हजार रुपए तक तारबंदी के लिए अनुदान पर देगी। इससे खेतों की जानवरों से सुरक्षा हो सकेगी। तारबंदी योजना पहले आओ व पहले पाओ के आधार पर संचालित है। कई वर्षों से संचालित हो रही इस योजना में कांटेदार तार लगाना जरुरी है।

पहले इस योजना के लाभ के लिए नियम था कि एक साथ 5 किसानों का ग्रुप हो और उनके पास करीब 40 बीघा जमीन होनी चाहिए। जो नियम को पूरा करते थे उन्हें सरकार की और से तारबंदी के लिए 40 हजार रुपए का अनुदान स्वीकृत किया जाता था। इस नियम में किसानों को परेशानी यह थी कि कई बार एक साथ 5 किसान नहीं हो पाते थे और कई बार किसानों की निर्धारित संख्या होने के बाद उनके पास 40 बीघा जमीन नहीं हो पाती थी। ऐसे में किसानों को इसका लाभ नहीं मिलता था। लेकिन अब सरकार ने इस योजना के नियम में कुछ बदलाव किए है। नए नियम के मुताबिक अब 3 किसानों का ग्रुप हो और उनके पास करीब 12 बीघा जमीन होनी चाहिए। इसके बाद ही ऐसे किसानों को 40 हजार रुपए तक का अनुदान स्वीकृत होगा। इस नियम में बदलाव से किसानों को काफी राहत मिलेगी।इस योजना का लाभ लेकर किसान अपनी फसलों की जानवरों से सुरक्षा कर सकते हैं।-महाराज सिंह, कृषि अधिकारी, आभानेरी

राज किसान साथी पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा

योजना का लाभ के लिए किसानों को कृषि विभाग के राज किसान साथी पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इसमें संबधित किसान को जमीन की जमाबंदी, आधार कार्ड, बैंक पास बुक, ट्रेस नक्शा लोड करना होगा। जांच के बाद सरकार किसान के खाते में ऑनलाइन अनुदान भेजेगी।

खबरें और भी हैं...