हनी ट्रैप की आरोपी गिरफ्तार:सब्जी विक्रेता को बुलाकर दुष्कर्म के मामले में फंसाने की धमकी देकर 5 लाख रुपए मांगने वाली महिला पकड़ाई

बांदीकुई4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

राजस्थान में पिछले काफी समय से हनी ट्रैप मामले काफी बढ़ते जा रहे हैं ओर पुलिस थानों में इस तरह के मुकदमों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। स्कूल, कालेज में पढ़ने, दुकानों पर काम करने वाले युवा ही नही शादीशुदा वाले भी हनी ट्रैप का शिकार हो रहे हैं। उनको अहसास ही नहीं होता कि कब इसके शिकार हो गए हैं। ऐसा ही वाकया शहर में एक युवक के साथ हुआ।एक युवक के साथ हनीट्रैप का मामला सामने आया है। आरोप है कि हनीट्रैप गिरोह ने पीड़ित युवक से 32 हजार रुपए भी ऐंठ लिए। डरा-धमकाकर 1.20 लाख रुपए की मांग ओर कर दी, इतना ही नहीं रकम नहीं देने पर उसे झूठे रेप के केस में फंसाने की धमकियां दी जा रही थी। आखिर कार परेशान होकर पीड़ित ने युवती और उसके दो साथियों समेत 3 लोगों के खिलाफ कुचामन थाने में सोमवार को मामला दर्ज करवाया है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

इंस्टाग्राम पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी

सुरेश पुत्र देवाराम जाट निवासी लोहराणा ने बताया कि कुछ दिनों पहले एक लड़की ने उसे इंस्टाग्राम पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी थी। इसके बाद उस लड़की ने दोस्ती का झांसा देकर उसे कुचामन बुलाया। इस पर वो अपनी थार जीप से लड़की के बताए अनुसार कुचामन में एक रेस्टोरेंट पर पहुंचा। वहां से वो लड़की उसकी जीप में बैठ गई और स्टेडियम की तरफ ले गई। वहां अचानक एक इनोवा गाड़ी पहुंची और उसमे से दो युवक नरेश कड़वा और राजेश कड़वा उतरे। उन्होंने उसे जबरदस्ती जीप से उतारकर इनोवा में बैठा लिया। वो लड़की भी उनके साथ इनोवा में बैठ गई। इसके बाद नरेश और राजेश ने उसके साथ मारपीट की और धमकाया। उन्होंने डेढ़ लाख रुपये मांगे और नहीं दें पर झूठे मामले में फंसाने की धमकी दी। इसके बाद जैसे-तैसे उसने अपने एक दोस्त से उनके नंबर पर 32 हजार रुपये फोन पे करवाए। इसके बाद उन्होंने शाम 6 बजे तक 1.20 लाख रुपये और देने की धमकी दी और उसे छोड़ दिया। अब दोनों आरोपी उसके परिजनों और रिश्तेदारों को धमकियां दे रहे है कि अगर रुपये नहीं दिए गए तो रेप के झूठे मामले में फंसा देंगे। पुलिस ने धारा 365,384,506,120 बी में मामला दर्ज कर जांच शुरू की।

महिला ने भी दर्ज कराई शिकायत

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार दूसरी ओर लड़की ने भी थाना में अपने पति के साथ उपस्थित होकर रिपोर्ट दी कि कुचामन में राजस्थान पुलिस की कोचिंग करने के लिए कुचामनसिटी में निवास कर रही हू। दस जनवरी 2022 को सुरेश कुमार आया तथा मुझे अपना रिश्तेदार बताकर कहां कि मुझे मेरे गाडी की किश्ते भरनी है तो आप मुझे अपना मंगलसुत्र, कान बाली लेकर चला गया तथा कहा कि आपको उक्त गहना एक माह के भीतर भीतर अदा कर दूंगा। तथा दिनांक 20/01/2022 को वापस कुचामनसिटी आया तथा मुझे बहला फुसलाकर अपने साथ जबरदस्ती ले जाने लगा तो मैने मेरे पति राजेश को सूचना दी तो मेरा पति आया तथा कुचामन खाल्डे में मेरे पति पहुचकर मुझे छुड़ाया अन्यथा मुझे वो कही ले जाता ओर मुझे फोन पर जान से मारने की धमकिया दें रहा। इस पर पुलिस ने मुकदमा नंबर 23/ 22 धारा 366 406 420 दर्ज कर तफ्तीश जारी है।

महिला ने बना रखा है गिरोह

पुलिस ने बताया कि महिला नीलम ने एक गिरोह बना रखा है। जिसमें करीब 5 से 6 लोग हैं ये सभी लोगों को बहला फुसलाकर बुलाते हैं और दुष्कर्म के मामलों में फंसाने की धमकी देकर रुपए ऐठते हैं। पुलिस इस गिरोह के अन्य सदस्यों की गिरफ्तारी के लिए जुटी हुई हैं।

बांदीकुई में हनी ट्रैप के मामले में पहली कार्रवाई

बांदीकुई में हनी ट्रैप से जुड़े अभी तक कई मामले आ चुके हैं। यह पहला मामला है, जिसमें पुलिस ने किसी महिला को गिरफ्तार किया हैं। लंबे समय से बांदीकुई में इस प्रकार की गैंग सक्रिय है जो झूठे दुष्कर्म के मामलों में फंसाने की धमकी देकर लोगों से रुपए ऐंठने का कार्य कर रही हैं।

खबरें और भी हैं...