बाडा पदमपुरा में धर्म सभा का आयोजन:भक्तों ने किए भगवान के दर्शन, 11 यात्राएं पहुंची पदमपुरा

चाकसू12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

धर्म प्रभावना बढ़ाने में पदयात्राओं का बड़ा महत्व होता है। ये विचार रविवार को गणिनी आर्यिका स्वस्ति भूषण माताजी ने बाडा पदमपुरा में आयोजित धर्म सभा में व्यक्त किए। इस मौके पर बड़ी संख्या में पहुंचे पदयात्रियों ने भगवान पद्म प्रभ के दर्शन लाभ लेते हुए माताजी ससंघ से आशीर्वाद प्राप्त किया। मुख्य समन्वयक रमेश ठोलिया एवं उपाध्यक्ष विनोद जैन कोटखावदा ने बताया कि सुबह 4 बजें से ही पदयात्राओं के आने का सिलसिला शुरू हो गया। जयपुर की विभिन्न कालोनियों सहित टोंक, निवाई आदि स्थानो से करीब 11 पदयात्राएं पदमपुरा पहुंची। भगवान पद्म प्रभ के दर्शन लाभ के बाद स्वस्ति भूषण माताजी के सानिध्य में आयोजित धर्म सभा में शामिल हुए। इस मौके पर सभी अतिथियों का क्षेत्र कमेटी एवं चातुर्मास कमेटी की ओर से स्वागत एवं अभिनन्दन किया गया। इससे पहले सुबह पदयात्री नाचते गाते भगवान पद्म प्रभ के दरबार में पहुंचे। दर्शन लाभ एवं प्रवचन के बाद पदमपुरा पहुंचे। पदयात्रियों ने साजो बाजों से संगीतमय पूजा अर्चना की। इस दौरान सम्मान समारोह आयोजित किया गया। जिसमें त्यागी व्रती तपस्वियों एवं वरिष्ठ पदयात्रियों का सम्मान किया गया। सायंकाल मे वात्सल्य सहभोज हुआ।

खबरें और भी हैं...