पति के शव की शिनाख्त की:पत्नी ने 7 दिन बाद कटी अंगुलियां देखकर पति के शव की शिनाख्त की

चौमू2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कालवाड़ थाने क्षेत्र की घटना, डंपर ने कुचला था

कालवाड थाना क्षेत्र के भैंतरिया भैंरू मोड़ के पास पिछले सप्ताह बजरी के डंपर से कुचलकर हुई युवक मौत के बाद मृतक की पत्नी ने 7 दिन बाद हाथ की अंगुलियों के आधार पर जयपुर एसएमएस अस्पताल की मोर्चरी में कालवाड़ पूजा बिहार निवासी आनंद कुमार वर्माके रूप की है। गौरतलब है कि सात दिन पहले कालवाड़ थाना क्षेत्र के भैंतरिया भैंरू मोड़ के पास एक 35 वर्षीय युवक की बजरी से भरे डंपर के कुचलने से मौत हो गई थी।

पुलिस ने शिनाख्त कराने की कोशिश की,लेकिन शिनाख्त नहीं हो पाई थी। मृतक का 12 वर्षीय बच्चा, जब कॉलोनी के रहने वाली अर्चना बालोटिया के पास गया, तो उसने अपने पिता के 7 दिन बाद भी घर नहीं आने की बात कही। उसकी सूचना पर कालवाड़ थाना पुलिस ने मृतक के घर पहुंच कर शव का हुलिया बताने के बाद,मृतक की पत्नी ने जयपुर एसएमएस अस्पताल की मोर्चरी में जाकर कटी अंगुलियों के आधार पर मृतक की शिनाख्त आनंद कुमार वर्मा के रूप में की। मृतक की पत्नी ने बताया कि उसका पति फर्नीचर का काम करता था और घर से यह कहकर गया था कि वह मजदूरी पर जा रहा है। तब से वह वापस घर नहीं लौटा था।

कालवाड़ कार्यवाहक थानाधिकारी रामेश्वर लाल ने बताया कि मृतक की शिनाख्त के बाद पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया है।दो लड़के व दो लड़कियां, रोजी-रोटी का संकटकालवाड़ पूजा बिहार निवासी मृतक आनंद कुमार वर्मा के 4 बच्चे हैं। जिनमें दो लड़के व दो लड़कियां है। बड़ा लड़का 12 वर्ष का है व एक लड़की विकलांग है। छोटा लड़का अभी 2 वर्ष का है। पत्नी खेतों में मजदूरी करती है। मृतक आनंद कारपेंटर का कार्य कर परिवार का लालन पालन करता था, लेकिन उसकी मौत के बाद अब परिवार पर की रोजी-रोटी का संकट भी खड़ा हो गया है।

खबरें और भी हैं...