एयरफोर्स में नौकरी लगवाने के नाम पर ठगी:आरोपी ने 5 लोगों से 9.75 लाख रुपए ठगे, पुलिस कार्रवाई के डर से 1.50 लाख लौटाए

चौमूं6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
करधनी पुलिस थाना। - Dainik Bhaskar
करधनी पुलिस थाना।

करधनी पुलिस थाने में एयरफोर्स में नौकरी लगाने के नाम पर ठगी करने का मामला सामने आया है। निजी कॉलेज संचालक गोवर्धन यादव (44) पुत्र हनुमान सहाय यादव निवासी प्लॉट नंबर 58 चंद्र नगर ने एक युवक के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवाया है। करधनी थाने में दर्ज रिपोर्ट में कॉलेज संचालक ने बताया कि वह पूजा कॉलेज के नाम से शैक्षणिक संस्थान चलाता है। साल 2016 में टीकमचंद जायसवाल निवासी राजा गार्डन, नई दिल्ली ने कॉलेज में आकर उसके साथ मुलाकात की। मुलाकात में उसने बताया कि मैं युवाओं को सरकारी नौकरी पर लगवाता हूं। मेरी सरकारी विभागों में काफी अच्छी जानकारी है। पहले भी मैंने कई ग्रेजुएट युवाओं को सरकारी नौकरी लगवा चुका हूं। इस पर पीड़ित गोवर्धन ने विश्वास करके अपने भांजे विकास व लोकेश यादव व मित्र आशीष यादव पुत्र मोहन यादव, गोविंद सैनी पुत्र जगदीश सैनी को टीकमचंद से मिलवाया और प्रत्येक लड़के को 3 लाख रुपए में सरकारी नौकरी लगवाने की बातचीत हुई। एडवांस के तौर पर विकास, लोकेश, आशीष, गोविंद व ममता से 1.25-1.25 लाख रुपए ले लिए। इस पर कुल 6 लाख 25 हजार रुपए टीकमचंद ने प्राप्त कर लिए।

उन्होंने बताया कि 2 जून 2016 को 3 लाख 50 हजार रुपए विकास यादव पुत्र रमेश चंद यादव से टीकमचंद ने और ले लिए। इसके बाद टीकमचंद सभी को दिल्ली ले गया और सभी से दस्तावेज लेकर रख लिए। उसने करीब 20 से 25 दिन तक दिल्ली में सरकारी नौकरी के लिए आवश्यक औपचारिकताएं पूरी करने के लिए सबको दिल्ली में ही रखा। इसके बाद जयपुर वापस भेज दिया। उसने कहा कि तुम्हारा नौकरी का कॉल लेटर जल्द ही तुम्हारे घर आ जाएगा। कई दिनों तक कॉल लेटर नहीं आने पर टीकमचंद से मोबाइल पर संपर्क किया तो कुछ दिनों के लिए आनाकानी करता रहा। इसके बाद पुलिस कार्रवाई के डर से दिसंबर 2019 में 1 लाख 50 हजार रुपए पीड़ित के खाते में जमा करवा दिए और बाकी पैसा भी जल्द देने की बात कही। लेकिन उसने अब तक बाकी 8 लाख 25 हजार रुपए नहीं लौटाए हैं।

खबरें और भी हैं...