पेयजल समस्या से परेशान लोगों का प्रदर्शन:अफसरों के खिलाफ की नारेबाजी, 10 दिन में समस्या समाधान का आश्वासन मिला

चौमूं10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दुर्जनियावास और सारंग का बास गांव के लोगों ने शनिवार को पेयजल संकट से परेशान होकर दुर्जनियावास रामकुई रोड पर जाम लगा दिया। - Dainik Bhaskar
दुर्जनियावास और सारंग का बास गांव के लोगों ने शनिवार को पेयजल संकट से परेशान होकर दुर्जनियावास रामकुई रोड पर जाम लगा दिया।

झोटवाड़ा पंचायत समिति की ग्राम पंचायत दुर्जनियावास और सारंग का बास गांव के लोगों ने शनिवार को पेयजल संकट से परेशान होकर दुर्जनियावास रामकुई रोड पर जाम लगा दिया। नाराज लोगों ने जलदाय विभाग के खिलाफ नारेबाजी करते हुए विरोध प्रदर्शन किया और पानी की समस्या का समाधान करने की मांग को लेकर धरना दिया।

सूचना मिलने कालवाड थाने से सहायक उप निरीक्षक रामवतार सिंह मय जाब्ता मौके पर पहुंचे ओर लोगों समझाइश की। लोगों ने जलदाय विभाग के अधिकारियों पर समाधान नहीं करने का आरोप लगाते हुए विरोध जताया। पंचायत समिति सदस्य मोहन रोलानिया और पुलिस अधिकारियों ने ग्रामीणों को दस दिन में समस्या का समाधान कराने का आश्वासन दिया। जिसके बाद ही ग्रामीणों का गुस्सा शांत हुआ। पुलिस ने यातायात को सुचारू कराया। करीब दो घंटे बाद वाहन चालकों को जाम से राहत मिली।

इधर, स्थानीय निवासी कैलाश चंद्र वर्मा ने बताया कि पानी की लाइन घरों के सामने से गुजर रही है। लेकिन जलदाय विभाग के अधिकारी पिछले 6 महीने से कनेक्शन देने में आनाकानी कर रहे हैं। वहीं 100 मीटर दूरी पर एक मुर्गी फार्म को विभागीय अधिकारियों ने मिलीभगत से कनेक्शन दे दिया।