कृषक प्लेटफार्म पर व्यापारियों का कब्जा:मंडी में खुले आसमान के नीचे सामान रखना बना किसानों की मजबूरी, मंडी प्रशासन ने जारी किए नोटिस

चौमूंएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कृषक प्लेटफार्म के बाहर खुले में रखा किसानों का माल। - Dainik Bhaskar
कृषक प्लेटफार्म के बाहर खुले में रखा किसानों का माल।

प्रदेश में किसानों के लिए सरकार भी अनेक योजनाएं लेकर आती है, लेकिन यह सब योजनाओं हकीकत से दूर हैं। इन सब योजनाओं का लाभ किसानों को नहीं मिल पाता है, जिससे किसान बेबस है। ऐसी ही एक तस्वीर चौमूं कृषि उपज मंडी की है। जहां पर किसानों की सुविधाओं के लिए बनाए गए कृषक प्लेटफार्म पर व्यापारियों का कई दिनों से कब्जा चल रहा है। जिससे किसानों को अपना सामान खुले आसमान के नीचे रखना पड़ता है। जिससे कई बार किसानों का माल खराब हो चुका है। अब मंडी प्रशासन की लापरवाही की वजह से व्यापारियों की बल्ले-बल्ले हो रही हैं। अभी हाल ही में कुछ दिनों पूर्व किसानों ने कृषक प्लेटफार्म खाली करवाने की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन किया था। लेकिन, मंडी प्रशासन ने व्यापारियों को नोटिस देकर कार्रवाई के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति कर ली है। एक व्यापारी ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि कृषक प्लेटफार्म पर व्यापारियों ने कब्जा कर रखा है। जिससे किसानों को अपना माल खुले में रखना पड़ता है।

मंडी में जींस की हो रही है आवक
मंडी में प्रतिदिन मूंगफली व बाजरा सहित अन्य जींस की करीब 20 हजार से अधिक बोरियों की आवक रहती है। जहां पर किसान चौमूं उपखंड के अलावा शाहपुरा, आमेर, फुलेरा, रेनवाल, चंदवाजी, कोटपूतली, रींगस, श्रीमाधोपुर, कावट, थोई, दातारामगढ़, खंडेला, नागौर, डीडवाना, झुंझुनू, सीकर जिले के कई किसान भी मंडी में अपना सामान लेकर पहुंच रहे है।

कृषक प्लेटफार्म पर रखा व्यापारियों का माल।
कृषक प्लेटफार्म पर रखा व्यापारियों का माल।

माल खुले आसमान के नीचे
वहीं, चौमूं उपखंड सहित आसपास के गांवों से भी किसान अपना माल चौमूं कृषि उपज मंडी में लेकर पहुंचते हैं। लेकिन, मंडी में किसान कृषक प्लेटफार्म पर व्यापारियों का कब्जा होने की वजह से किसानों को अपने माल को खुले आसमान के नीचे रखना पड़ रहा है। किसानों ने इस समस्या को लेकर मंडी प्रशासन को कई बार अवगत कराया, लेकिन समस्या जस की तस बनी हुई है। हस्तेड़ा निवासी किसान भगवान सहाय यादव ने बताया कि मंडी में मूंगफली, बाजरा, ग्वार, मोठ, मक्का, गेहूं सहित हर फसल सीजन के दौरान किसान अपना माल लेकर पहुंचते हैं। जो किसानों के लिए बनाए गए प्लेटफार्म में वहां पर व्यापारियों का कब्जा होने की वजह से सामान खुले में रखना पड़ता है। जिससे कई बार माल खराब होने से नुकसान भी लग गया हैं।

कृषक प्लेटफार्म से व्यापारियों को सामान हटाने के लिए नोटिस जारी किए गए हैं। जल्द ही इनके खिलाफ कार्रवाई करते हुए सामान को हटवाया जाएगा।
अमरचंद सैनी, सचिव, कृषि उपज मंडी, चौमूं।