सामूहिक विवाह सम्मेलन:वसंत पंचमी पर पारीक समाज का 5वां सामूहिक विवाह सम्मेलन, 9 जोड़ों की जिंदगी में आएगा वसंत

चौमू6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ढोल-नगाड़ों के साथ समाज के महिला-पुरुषों ने गढ़ गणेश मंदिर पहुंचकर निमंत्रण दिया

बंसत पंचमी पर महर्षि पराशर (पारीक) सेवा समिति चौमूं की ओर से पारीक समाज का पंचम सामूहिक विवाह सम्मेलन 26 जनवरी गुरूवार को केशव नगर स्थित बालिका आदर्श विद्या मंदिर में होगा। समिति के अध्यक्ष रामावतार पारीक ने बताया कि समिति की ओर से हर बसंत पंचमी पर सामूहिक विवाह सम्मेलन होता है। इस बार पारीक समाज के 9 जोड़ों का गठबंधन सप्तपदी प्रथा के अनुसार संपूर्ण प्रक्रिया और रीति-रिवाज के साथ सम्पन्न करवाया जाएगा। इससे पूर्व समिति की ओर से 4 सामूहिक विवाह सम्मेलनों में 44 जोड़ों का पाणीग्रहण करवाया जा चुका है।

दो दिवसीय सामूहिक विवाह सम्मेलन के तहत बुधवार को गणेशजी को निमंत्रण दिया गया, वहीं शाम को महिला संगीत कार्यक्रम हुआ, जिसमें वर-वधुओं के परिवार और समाज की महिलाओं ने हिस्सा लिया, सामूहिक भोज भी हुआ। महिला संगीत में समिति के सांस्कृतिक सचिव एवं क्षेत्रीय पारीक परिषद त्रिवेणीधाम के अध्यक्ष उमेशचंद्र पारीक की ओर से उपहार वितरण किए गए। 26 जनवरी को शिव वाटिका गढ़ गणेश मंदिर से म्यूजिक बैंड के लवाजमे व गाजे-बाजे के साथ बारात रवाना होकर कार्यक्रम स्थल पर पंहुचेगी। बीच रास्ते में जगह-जगह पर सर्व समाज के लोगो की ओर से जलपान, पुष्पवर्षा की जाएगी। यातायात व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस भी तैनात रहेगी।

सुबह 11.15 बजे तोरण मारने की रस्म होगी। इसके बाद सामूहिक वरमाला कार्यक्रम होगा। वरमाला के बाद फोटो सैशन और समाजबंधुओं की मौजूदगी में पाणिग्रहण संस्कार हुआ। कार्यक्रम में समाज के भामाशाहों की ओर से वधुओं को करीब 80 से अधिक बड़े उपहार प्रत्येक वधु को भेंट किए जाएंगे। पारीक समाज के एक भामाशाह की ओर से (गुप्त सहयोग) स्वर्णाभूषण दिए जाएंगे, कार्यक्रम में दूरदराज से भी समाज के लोग वर-वधुओं को आशीर्वाद देने आएंगे। समिति के सांस्कृति व सचिव नंदकिशोर पारीक, पारीक सोशल ग्रुप सीकर के पदाधिकारी, पारीक महासभा समिति जयपुर के पदाधिकारी, एसएसजी पारीक काॅलेज के पदाधिकारियों के साथ ही समाज की विभिन्न संस्थाओं के पदाधिकारी पूरे दिन कार्यक्रम की व्यवस्थाएं संभालेंगे।
गणेशजी को गाजे-बाजे के साथ निमंत्रण
पारीक समाज के पंचम सामूहिक विवाह सम्मेलन के लिए बुधवार को श्रीगणेशजी को समिति के कार्यालय से ढोल-नगाड़ों के साथ समाज के महिला-पुरुषों ने गढ़ गणेश मंदिर पहुंचकर निमंत्रण दिया और विवाह सफल होने की मन्नत मांगी।

खबरें और भी हैं...