संत-महंतों का सम्मान:राम रुणीजा धाम महायज्ञ में आए संत-महंतों का सम्मान

चौमू14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बिलौंची के पास पहाड़ी पर स्थित बाबा रामदेव तपोस्थली भूमि श्रीराम रुणीजा संत आश्रम में महंत रामकुंवारदास के सानिध्य में तीन दिवसीय श्रीराम महायज्ञ के दूसरे दिन यज्ञाचार्य व पंडितों ने नित्यार्चन करवाया गया। बुधवार शाम तक श्रीराम मंत्र व पुरुष सूक्त की सवा लाख आहुतियां लगाई जा चुकी थीं। साथ ही महायज्ञ में त्रिवेणीधाम महंत राम रिछपालदास सहित विभिन्न स्थानों से यज्ञ और चादर पोशी में संत-महंतों को प्रसादी करवाई गई।

महंत रामकुंवारदास व चादर पोशी का कार्यक्रम संपन्न कर बनाए गए शिष्य रामवीरदास, मंदिर सेवा समिति के पदाधिकारियों, सदस्यों ने संतों का सम्मान किया। यज्ञ मंडप के चारों और परिक्रमा करते हुए आसपास के गांवों के श्रद्धालुओं सहित अनेक भक्तों की दिनभर भीड़ रही। मंदिर के आसपास कई खिलौनों, प्रसाद आदि की छोटी-छोटी दुकानें लगी रही। संत आश्रम पहाड़ी पर स्थित होने से चारों ओर हरियाली का अद्भुत नजारा दिखाई दे रहा था। गुरुवार दोपहर 12:15 बजे यज्ञ की पूर्णाहुति करवाई जाएगी और भंडारा होगा।

खबरें और भी हैं...