• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Chomu
  • The Old Man Living In The Hostel Went To Make Tea, Got Up As Soon As The Lighter Was Lit, Got Scorched, After Hearing The Sound Of Shouting, The Colleagues Who Came Running Got Admitted To The Hospital

गैस पाइप में लीकेज से किचन में लगी आग:हॉस्टल में रहने वाला बुजुर्ग चाय बनाने के लिए गया, लाइटर जलाते ही उठे भभके में झुलसा, चिल्लाने की आवाज सुनकर दौड़कर आए साथियों ने हॉस्पिटल में कराया भर्ती

चौमूंएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
घटनास्थल का मौका-मुआयना करने पहुंची पुलिस। - Dainik Bhaskar
घटनास्थल का मौका-मुआयना करने पहुंची पुलिस।

चौमूं इलाके में स्थित एक हॉस्टल की किचन में शुक्रवार सुबह आग लग गई। गैस पाइल लीकेज होने के कारण हादसा हुआ। आग से झुलसे बुजुर्ग को एसएमएस अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उसका इलाज चल रहा है। सूचना पर पुलिस व दमकल भी मौके पर पहुंची थी, लेकिन हॉस्टल में मौजूद लोगों ने तुरंत ही आग पर काबू पा लिया था। जिससे ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है।

रेनवाल रोड पर श्रवण सिंह का श्याम नाम से हॉस्टल है। टोंक निवासी रामेश्वर प्रसाद शर्मा (60) पिछले एक साल से हॉस्टल में कमरा लेकर रह रहा है। घटनाक्रम के मुताबिक, सुबह करीब 6:30 बजे वह हॉस्टल की किचन में चाय बनाने गया। गैस जलाने के लिए लाइटर जलाते ही एक दम से आग का भभका उठा, जिससे वह गंभीर रुप से झूलस गया। गैस पाइप में लीकेज के कारण किचन में रखे सामान में आग लग गई। रामेश्वर की चिल्लाने की आवाज सुनकर हॉस्टल में मौजूद संचालक सहित अन्य लोग भागकर रसोई में पहुंचे। पानी डालकर तुरंत आग पर काबू पाया गया। हादसे में झुलते रामेश्वर को तुरंत चौमूं के निज अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद हालत गंभीर होने पर जयपुर के एसएमएस अस्पताल के लिए रेफर कर दिया।

किचन की छत व दीवार में तरार

सूचना पर पुलिस व दमकल मौके पर पहुंची, लेकिन उससे पहले ही आग पर काबू पा लिया गया था। पुलिस के मौका-मुआवना करने पर किचन की छत व दीवार में तरार मिली। हादसे के बाद पुलिस के पहुंचने से पहले वहां मौजूद लोगों ने किचन की साफ-सफाई कर दी थी। पुलिस का कहना है कि गैस पाइप में लीकज के कारण हादसा होना सामने आया है। गैस सिलेण्डर के बाहर की ओर रखे होने के कारण बड़ा हादसा होने से टल गया।

मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का मौका-मुआयना किया गया है। सूचना लेट मिलने से अग्निशमन के कर्मचारियों के पहुंचने से पहले आग पर काबू पाकर रसोई में साफ सफाई कर दी गई थी। फिलहाल फायर एनओसी के बारे में जांच की जा रही है।
अर्जुन लाल गुर्जर, कार्यवाहक अग्निशमन अधिकारी, चौमूं

खबरें और भी हैं...