• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Chomu
  • Uncontrolled Trailer Divider Jumped Into The Coming Trailer, Then The Fire Broke Out, The Car Was Shattered Due To The Trailers, 3 Youths Trapped In The Car Died, 2 Injured

दो ट्रेलर के बीच दबी कार:ट्रेलर डिवाइडर से उछलकर सामने से आ रहे ट्रेलर में घुसा, इनकी चपेट में आई कार में फंसे 5 में से 4 युवकों की मौत, एक गंभीर

चौमूं3 महीने पहले
जयपुर-दिल्ली हाईवे स्थित घटवाड़ा पुलिया के पास सोमवार सुबह दर्दनाक हादसा हो गया। हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई।

जयपुर-दिल्ली हाईवे स्थित घटवाड़ा पुलिया के पास सोमवार सुबह दर्दनाक हादसा हो गया। अनियंत्रित ट्रेलर डिवाइडर पर चढ़कर दूसरी ओर सामने से आ रहे ट्रेलर में जा घुसा। दोनों ट्रेलर में टक्कर के दौरान एक कार उनके बीच में फंसकर चकनाचूर हो गई। इस दौरान एक ट्रेलर के केबिन में आग भी लग गई। हादसे की सूचना पर पहुंची पुलिस ने कार सवार पांचों घायलों को हॉस्पिटल पहुंचाया। जहां तीन को मृत घोषित कर दिया गया। एक युवक की इलाज के दौरान मौत हो गई। जबकि एक का इलाज चल रहा है। पुलिस ने ट्रेलर में लगी आग पर दो दमकलों की मदद से काबू पाया। तीनों क्षतिग्रस्त वाहनों को क्रेन की मदद से सड़क किनारे करवाकर यातायात को सुचारू करवाया।

हादसे में कार सवार चार लोगों की मौत हो गई है। इनमें 22 वर्षीय मोहनलाल दादरवाल पुत्र रिछपाल सिंह जाट चेतनदास की ढाणी ग्राम बधाला, थाना रानोली, जिला सीकर का रहने वाला है। 22 वर्षीय सुभाष कुमार पुत्र मदनलाल जाट बरसिंहपुरा थाना रानोली, जिला सीकर का निवासी है। 20 वर्षीय हंसराज पुत्र गोविंदराम जाट कासराडा थाना रींगस, जिला सीकर का निवासी है। वहीं नरेन्द्र सिंह पुत्र शिवनाथ सिंह जाट उम्र 25 वर्ष निवासी आलोदा थाना खाटूश्याम जी जिला सीकर ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। संदीप महरिया गंभीर रूप से घायल है, जिसका निम्स अस्पताल में उपचार जारी है। कार में सवार सभी लोग बिहार के पटना शहर जा रहे थे।

ट्रेलर में भिड़ंत के दौरान लगी आग।
ट्रेलर में भिड़ंत के दौरान लगी आग।

कार मालिक ने दर्ज कराई शिकायत
संतोष कुमार खीचड़ निवासी गणेशपुरा खाटूश्याम जी ने पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई है। संतोष ने बताया कि उसका ड्राइवर सुभाष जाट अपने दोस्त नरेंद्र सिंह, हंसराज महरिया, मोहनलाल दादरवाल और संदीप महरिया के साथ पलसाना से दिल्ली के लिए सुबह करीब 3 बजे रवाना हुए थे। सुबह 4:30 से 5 बजे के बीच सुभाष अपने दोस्तों के साथ जाटावाली मोड़ से आगे जयपुर-दिल्ली हाईवे पर चढ़कर करीब 100 से 150 मीटर ही चला था। तभी एक तेज रफ्तार ट्रेलर डिवाइडर तोड़कर दूसरे ट्रेलर में जा घुसा। दोनों ट्रेलर के चपेट में उसकी कार भी आ गई। कार बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। कार में सवार नरेंद्र सिंह, हंसराज महरिया, मोहन दादरवाल और ड्राइवर की मौत हो गई। वहीं संदीप गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना मिलने पर संतोष मौके पर पहुंचा और ट्रेलर चालक के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है।

ओवरटेक कर रही कार चपेट में आई
जयपुर-दिल्ली हाईवे पर हादसा सुबह करीब साढ़े चार बजे हुआ। एक ट्रेलर गेहूं लेकर जयपुर से दिल्ली जा रहा था। घटवाड़ा पुलिया के पास वह अनियंत्रित हो गया और वह डिवाइडर से कूदकर दूसरी साइड चला गया। इसी दौरान दिल्ली से जयपुर की ओर आ रहे टाइल्स से भरे दूसरे ट्रेलर में जा घुसा। टक्कर के दौरान सीकर की ओर से आई कार ओवरटेक करते समय दोनों ट्रेलर के बीच में आने से फंसकर चकनाचूर हो गई। इसके बाद टाइल्स से भरा ट्रेलर पलट गया और गेहूं से भरे ट्रेलर के केबिन में आग लग गई। राहगीरों ने तुरंत हादसे की सूचना पुलिस को दी। सूचना पर हरमाड़ा व चंदवाजी थाने का जाब्ता मौके पर पहुंचा। दमकल को सूचित कर राहगीरों की मदद से क्षतिग्रस्त कार में फंसे पांचों युवकों को काफी मशक्कत के बाद बाहर निकाला। पांचों घायलों को एंबुलेंस की मदद से गंभीरावस्था में निम्स हॉस्पिटल भिजवाया गया। जहां डॉक्टर्स ने तीन युवकों को मृत घोषित कर दिया। दो घायलों में से एक ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

टक्कर लगने के बाद पलटा टाइल्स से भरा ट्रेलर।
टक्कर लगने के बाद पलटा टाइल्स से भरा ट्रेलर।

दो दमकलों ने बुझाई आग
पुलिस ने बताया कि हादसे के दौरान दोनों ट्रेलर के ड्राइवर व खलासी मौके से फरार हो गए थे। आग की सूचना पर चौमूं से दो और जयपुर से तीन दमकल मौके पर पहुंची। दमकलकर्मियों ने 15 मिनट की मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया। आग से ट्रेलर का केबिन पूरी तरह जलकर कबाड़ में तबदील हो गया। वहीं, पलटे ट्रेलर में भरी ट्राइल्स सड़क पर बिखरने से पुलिस को उसे समेटने में काफी मशक्कत करनी पड़ी। हादसे के बाद हाईवे पर दो किलोमीटर लंबा जाम लग गया। पुलिस ने क्रेन की मदद से तीनों क्षतिग्रस्त वाहनों को सड़क किनारे करवाया। इस दौरान ट्रैफिक को दूसरे रास्ते से डायवर्ट किया गया और करीब दो घंटे बाद बाधित यातायात को सुचारू करवाया गया।

खबरें और भी हैं...