एसीबी की कार्रवाई - रिश्वत लेते ट्रेप हुई महिला थानेदार:तलाशी में महिला थानेदार के घर मिले 1.10 लाख रुपए जब्त, कोर्ट ने एक दिन के रिमांड पर सौंपा

दौसा8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बाइक छोड़ने की एवज में 2 हजार की रिश्वत लेते ट्रेप हुई थी

बांदीकुई सड़क दुर्घटना के मामले में बाइक छोड़ने की एवज में 2 हजार रुपए की रिश्वत लेने के आरोप में एसीबी के हत्थे चढ़ी महिला थानेदार के घर की तलाशी में मिले 1.10 लाख रुपए एसीबी ने जब्त किए हैं। रविवार को महिला थानेदार को मजिस्ट्रेट के यहां में पेश करने पर एक दिन के पुलिस रिमांड पर सौंपा है।भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो दौसा के डिप्टी एसपी राजेश सिंह ने बताया कि शनिवार रात बांदीकुई थाने की एएसआई ललिता शर्मा को 2 हजार रुपए की रिश्वत लेने के मामले में ट्रेप किया था। इसके बाद रात को उनके बांदीकुई स्थित मकान की तलाशी ली गई जहां 1.10 लाख रुपए मिले। जिन्हें जांच के लिए जब्त कर लिया। उन्होंने बताया कि रविवार को एएसआई ललिता को जयपुर में एसीबी मजिस्ट्रेट के यहाँ पेश किया जहां से एक दिन का पुलिस रिमांड मिला है।

बाइक छोड़ने के एवज में रिश्वत में दिए 1500 रुपए अब भी बरामद नहीं

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूर के डिप्टी एसपी राजेश सिंह ने बताया कि ट्रेप की कार्रवाईके दौरान परिवादी द्वारा एएसआई ललिता को 1500 रुपए रिश्वत की राशि दी गई थी। वह दूसरे दिन रविवार को भी नहीं मिली। उन्होंने बताया कि रिश्वत की राशि बरामद करने के लिए अदालत से रिमांड लिया है।

बांदीकुई पुलिस थाने में सन्नाटा, पुलिसकर्मियों के चेहरे से रौनक गायब

दो महीने के अंतराल में शहर में भष्ट्राचार के मामले में एसीबी द्वारा दूसरी कार्रवाई करने से क्षेत्र के सरकारी महकमों में खलबली मच गई। इससे पहले 13 जनवरी 2021 को तत्कालीन एसडीएम पिंकी मीणा को एसीबी ने ट्रेप किया था। अब महिला थानेदार ललिता शर्मा के ट्रेप होने के बाद क्षेत्र के सरकारी महकमों में तैनात अधिकारी व कर्मचारियों में हडकंप मचा हुआ है। रविवार को दिनभर बांदीकुई पुलिस थाने में सन्नाटा रहा। पुलिसकर्मियों का चेहरे से रौनक गायब थी।

खबरें और भी हैं...