पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बेरोजगारों भत्ता न मिलने से नाराजगी:जिले में 13 हजार बेरोजगारों को अभी तक नहीं मिला अप्रैल व मई माह का भत्ता

दाैसाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बेरोजगार भत्ते के लिए कार्यालय के चक्कर लगाते युवा। - Dainik Bhaskar
बेरोजगार भत्ते के लिए कार्यालय के चक्कर लगाते युवा।

जिले में 13 हजार 411 बेरोजगार हैं, जिन्हें अप्रैल व मई माह का बेरोजगारी भत्ता अभी तक जारी नहीं किया है। कारण, मुख्यमंत्री बजट घोषणा के तहत बढ़ाई गई भत्ता राशि के बारे में सरकार पिछले दो माह से नई गाइड लाइन तय नहीं कर पा रही है। बजट घोषणा के अनुसार पुरुषों का 4000 तथा महिला व दिव्यांग अभ्यर्थियों को हर माह 4500 रुपए भत्ता मिलेगा। विभाग के स्तर पर पाॅलिसी में हुए बदलव के बारे में अब तक कोई मापदंड निर्धारित नहीं किए हैं। ऐसे में बजट होने के बावजूद बेरोजगारों को भत्ता नहीं मिला है।

बेराेजगारी भत्ता नहीं मिलने से शिक्षित बेरोजगार परेशान, चिंतित और नाखुश हैं। लॉकडाउन व कोरोना काल ने शिक्षित युवाओं के सामने कई तरह का संकट खड़ा कर दिया। बिजनेस की मंदी के कारण प्राइवेट सेक्टर में नौकरियां नहीं हैं या छंटनी से काफी युवा बेरोजगार हाेकर घर बैठे हैं। सरकारी भर्तियां भी टलने से युवा टेंशन में हैं।

दूसरी ओर जिले में कई हजार युवा ऐेसे हैं, जिन्हाेंने बेरोजगारी भत्ते के लिए फाइल लगाई हुई है, लेकिन जयपुर के स्तर पर सभी फाइलें अटकी हुई हैं। नई स्कीम के अंतर्गत बेरोजगारी भत्ते के साथ युवाओं को स्किल ट्रेनिंग प्राेग्राम से जाेड़ने की याेजना है। जिससे युवा राेजागर का हुनर भी सीख सकें।

सरकार द्वारा इसका जिम्मा अधिकारियाें को दिया गया कि वे इसके मद्देनजर गाइड लाइन तय करें। बजट घोषणा को करीब 3 माह हाे गए हैं, लेकिन अभी कोई गाइडलाइन तय नहीं हुई और न ही सरकार के स्तर पर बेरोजगारों के लिए कोई निर्देश जारी किए हैं। बेरोजगार युवाओं कोन ताे किसी स्किल प्राेग्राम से जाेड़ा गया है और न ही कोई राेजगार मिला है।

घाेषणा के अनुसार 1 हजार बढ़कर मिलेगा भत्ता

अभी पंजीकृत बेरोजगारों में से भत्ते के लिए आवेदन करने वाले पुरुषों को 3000 और महिलाओं को 3500 रुपए मासिक भत्ता दिया जाता है। इसमें जनरल/ओबीसी के पुरुषों को 3000 तथा एससी/एसटी, महिला तथा दिव्यांग अभ्यर्थियों को 35000 रुपए मिलते हैं।

मुख्यमंत्री बजट घोषणा के अनुसार पुरुषों के लिए यह राशि 4 हजार और महिलाओ के लिए 4500 रुपए मासिक भत्ता देने की तैयारी है। साथ ही बेरोजगारों को स्क्रीम प्राेग्राम से भी जाेड़ा जाना है। भत्ता 2 साल तक मिलता है, जिसके लिए एक साल पूरा होने पर रिन्यूवल कराना अनिवार्य हाेता है।

मार्च तक के भत्ते का भुगतान कर दिया है

कार्यालय के स्तर पर मार्च-21 तक का बेरोजगारी भत्ता जारी कर दिया है। अप्रैल व मई का भत्ता अभी जारी नहीं हुआ है। मुख्यालय से निर्देश मिलने का इंतजार है। वहीं से स्वीकृति आने के बाद ही भत्ता राशि जारी की जाएगी। सरकार के स्तर पर बजट घोषणा के अनुसार नई गाइड लाइन तैयार की जा रही है। मुख्यालय से जैसे ही नए निर्देश मिलेंगे भत्ता राशि जारी कर दी जाएगी।
-जगदीश निर्वाण, जिला राेजगार अधिकारी, दौसा

खबरें और भी हैं...