मांग:महापड़ाव में आज जयपुर जाएंगे जिले से 450 विद्यार्थी मित्र पंचायत सहायक

दौसाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • महापड़ाव में पहुंचने के लिए पदाधिकारियों ने बांटे पीले चावल

राजस्थान विद्यार्थी मित्र पंचायत सहायक संघ के 15 दिसम्बर को प्रदेश स्तरीय महापड़ाव कार्यक्रम जिले के 450 विद्यार्थी मित्र पंचायत सहायक सामूहिक अवकाश लेकर महापड़ाव में शामिल होंगे। संघ के जिलाध्यक्ष दिनेश मीणा ने बताया कि महापड़ाव को लेकर मंगलवार को लालसोट, लवाण, दौसा, महवा, सिकराय, बांदीकुई, बैजूपाडा ब्लॉक के संविदाकर्मियों की बैठक लेकर महापड़ाव में शामिल होने के लिए पीले चावल बांटे गए। उन्होंने बताया कि 25 अक्टूबर से जयपुर में शहीद स्मारक पर धरना चल रहा है, जिसको 50 दिन हो गए, लेकिन सरकार कुंभकर्णी नींद सो रही हैं। कांग्रेस सरकार ने अपने घोषणा पत्र में संविदाकर्मियों को स्थाई करने का वादा किया था , लेकिन सरकार वादा खिलाफी कर रही है। सरकार ने विद्यार्थी मित्रों से तीन साल कमेटी-कमेटी का खेल खेल रही है। उन्होंने बताया कि 17 दिसम्बर तक नियमितीकरण की घोषणा नहीं की तो प्रदेश स्तरीय आंदोलन को उग्र किया जाएगा और जिलों में सरकार के तीन साल के कार्यक्रमों का विरोध किया जाएगा।

कर पा रही है। ऐसे में मजबूर होकर प्रदेश कार्यकारिणी के आह्वान पर बुधवार से जयपुर में प्रदेश स्तरीय महापड़ाव में शामिल होने के लिए प्रदेश के सभी 27000 पंचायत सहायक सामूहिक अवकाश लेकर जयपुर पहुचेंगे। बैठक को जिला संयोजक पवन सैनी, जिला प्रवक्ता सुरेन्द्र जांगिड, ब्लॉक अध्यक्ष हेमसिंह गुर्जर ने भी संबोधित किया। बैठक में प्रकाश शर्मा, राजकुमार अवस्थी, कमलेश शर्मा, दुर्गाप्रसाद, किरोड़ी सैनी, आलोक जोशी, जगदीश मीना, हमीद मोहम्मद, प्रदीप वशिष्ठ, अशोक मीना, वीरसिंह, रामसिंह गुर्जर, विजेंद्र बैरवा, श्यामसुंदर, राधेश्याम प्रजापत सहित दर्जनों पंचायत सहायक उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...