बिना परमिशन चल रहा था मेडिकल स्टोर:डायरेक्टर को शिकायत के बाद ड्रग इंस्पेक्टर की कार्रवाई से मची खलबली, 82 प्रकार की दवाइयां जब्त

दौसा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गीजगढ कस्बे में कार्रवाई करते ड्रग इंस्पेक्टर । - Dainik Bhaskar
गीजगढ कस्बे में कार्रवाई करते ड्रग इंस्पेक्टर ।

जिले के गीजगढ़ कस्बे में सरकारी अस्पताल के पास पिछले कई साल से बिना रजिस्ट्रेशन के चल रही मेडिकल स्टोर की दुकान पर जिला औषध नियंत्रण टीम ने कार्रवाई की। जहां कार्रवाई के दौरान टीम ने बिना परमिशन बेची जा रही 82 प्रकार की दवाइयां जप्त की हैं।

ड्रग इंस्पेक्टर की अचानक कार्रवाई की भनक लगते ही मेडिकल स्टोर संचालकों में खलबली मच गई। कई संचालक तो दुकान बंद कर भाग छूटे। यहां सरकारी अस्पताल के बाहर कई सालों से संचालित मेडिकल की दुकान पर बिना रजिस्ट्रेशन के ही दुकानदार बेझिझक दवाइयां बेच रहा था। जहां दौसा की टीम द्वारा पहुंचकर कार्रवाई के दौरान भारी मात्रा में दवा मिलने पर जब्त करने की कार्रवाई की गई।

जिला औषधि नियंत्रण अधिकारी दुर्लभ शर्मा व सुभाष दादरवाल ने बताया कि कस्बे में अवैध तौर पर चल रही मेडिकल स्टोर को लेकर सहायक औषध नियत्रक अधिकारी जयपुर दिनेश तनेजा को गुप्त सूचना मिली थी। ऐसे में उनके निर्देश पर सिकंदरा पुलिस की मौजूदगी में मेडिकल स्टोर पर कार्रवाई की गई। इस दौरान मेडिकल संचालक हीरालाल बिना लाइसेंस के दवा बेचता हुआ मिला। जिसके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। इस दौरान पुलिस चौकी से बसवीर सिंह व मुकेश कुमार गुर्जर मौजूद रहे है।
रिपोर्ट: अनिल शर्मा, गीजगढ़

खबरें और भी हैं...