ज्ञापन:बाल विवाह पंजीयन अनिवार्य करने का विराेध, कलेक्टर काे ज्ञापन

दौसा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भारतीय जनता युवा माेर्चा के बैनर तले बुधवार काे भाजपा व भाजयुमाे के पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने साेमनाथ से कलेक्ट्रेट तक रैली निकालकर हाल ही जारी किए गए बाल विवाह पंजीयन अनिवार्य का विराेध करने के साथ रीट परीक्षा मंे धांधली की जांच व बारिश से खराब हुई फसल का किसानाें काे मुआवजा देने की मांग उठाई। तीनाें मांगाें के समर्थन में मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर काे ज्ञापन साैंपा गया।भाजपा के जिलाध्यक्ष डाॅ. रतन तिवाड़ी व भाजयुमाे अध्यक्ष दीपक गुर्जर की अगुवाई में बड़ी संख्या लाेग साेमनाथ से नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट पर पहुंचे।

प्रदेश में बढ़ते अपराध के ग्राफ पर भी आक्राेश फूटा। भाजपा जिलाध्यक्ष डाॅ. रतन तिवाड़ी ने कहा कि कुछ दिन पहले झालावाड़ और अब अलवर में दलित समाज के 2 लाेगाें की हत्या कर दी थी। दाेनाें मामलाें की न्यायिक या सीबीआई से जांच हाेनी चाहिए। इससे दाेषी बच नहीं सके। उन्हाेंने कहा कि हाल में प्रकाशित नेशनल क्राइम रिकाॅर्ड ब्यूराे की रिपाेर्ट के अनुसार राजस्थान देश में महिला अपराधाें में प्रथम स्थान पर है, जाे बड़े ही दुर्भाग्य की बात है। महिलाओं के खिलाफ बढ़ते हुए अपराधाें काे नजर अंदाज कर पिछले दिनाें गहलाेत सरकार ने बाल विवाह का रजिस्ट्रेशन अनिवार्य कर राज्य सरकार ने बाल विवाह काे प्राेत्साहित करने का काम किया है।

खबरें और भी हैं...