मांस की अवैध दुकानों का विरोध:आक्रोशित लोगों ने रास्ता रोक कर पंचायत भवन का मुख्य गेट बंद किया, आश्वासन पर माने

दौसा7 महीने पहले

जिले के गुढाकटला उप तहसील मुख्यालय से मुही गांव को जाने वाले रास्ते के तिराहे पर संचालित मांस की दुकानों का लोगों ने सोमवार को विरोध जताया। ग्रामीणों ने रास्ते में पत्थर डालकर रास्ता बंद कर दिया। इससे प्रशासन गांवों के संग शिविर में जाने वाले कर्मचारियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। यहां अपनी मांगों को मनवाने के लिए कुछ लोगों ने गांव के प्रवेश द्वार पर पत्थर व पाइप डालकर विरोध प्रदर्शन करना शुरू किया तो कुछ लोगों ने पंचायत भवन का मुख्य गेट बंद कर विरोध किया।

ग्रामीणों के विरोध को देखते हुए प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए। रास्ता बंद होने से काफी देर तक अधिकारी व कर्मचारी रास्ते में ही अटके रहे। इसको लेकर स्थानीय अधिकारियों ने उच्च अधिकारियों को मौका स्थिति की जानकारी दी जहां पहुंचे नायब तहसीलदार हरकेश गेरोटा ने ग्रामीणों को समझाया। उनकी मांगों को उच्चाधिकारियों तक पहुंचाने के आश्वासन के बाद लोगों ने रास्ता व पंचायत भवन का मुख्य गेट खोल दिया।

कार्रवाई नहीं हुई तो किया विरोध

मुही ग्राम पंचायत के लिए जा रहे सड़क मार्ग के मुख्य द्वार के आसपास अवैध मांस की दुकानें संचालित हो रही हैं। इससे वहां घूमने वाले आवारा कुत्तों से लोगों को खतरा बना रहता है। कुत्ते कई लोगों को काट भी चुके हैं। स्कूल जाने वाले बालकों को कई बार कुत्तों ने जख्मी कर चुके हैं। इसकी शिकायत देने के बावजूद कार्रवाई नहीं हुई। इससे आक्रोशित लोगों ने सोमवार को विरोध प्रदर्शन कर प्रशासन गांव के संग अभियान के कर्मचारियों को रोकते हुए कार्रवाई की मांग की।