जुलाई से बच्चों को स्कूलों में मिलेगा प्रवेश / कोरोना से बचाव के पुख्ता इंतजाम के बाद ही एक जुलाई से बच्चों को स्कूलों में मिलेगा प्रवेश

X

  • शिक्षक संगठन ने भेजे सरकार को सुझाव

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 04:00 AM IST

दौसा. राजस्थान शिक्षक संघ राष्ट्रीय ने  शिक्षा मंत्री को पत्र लिखकर मांग की है कि 1 जुलाई से सरकारी विद्यालयों में बालकों को बुलाने से पूर्व कोरोना से बचाव की व्यवस्था की जाए।  प्रदेश सह संगठन मंत्री पंडित राधेश्याम शर्मा ने बताया कि राज्य में कोरोना वायरस के संक्रमित व्यक्ति प्रतिदिन आ रहे हैं। ऐसे में 1 जुलाई से प्रत्येक विद्यालय में कक्षाओं की संख्या स्कूल के बालकों की संख्या तथा कुल शिक्षकों की संख्या तथा दो पारी में विद्यालय संचालित हो सकें इसके पुख्ता इंतजाम होने चाहिए। राज्य सरकार ने 10 वीं व12वीं बोर्ड परीक्षाओं में प्रत्येक कक्षा कक्ष में 15 बालकों को बैठाने की व्यवस्था के साथ मास्क तथा थर्मल स्कैनिंग अनिवार्य की है। इसी तरह बालकों को बुलाने से पहले इन सभी व्यवस्थाओं को प्रत्येक विद्यालय में लागू करने के पुख्ता प्रबंध किए जाने आवश्यक है। वर्तमान में प्रत्येक उच्च माध्यमिक विद्यालय में तकरीबन 20 कक्षा कक्ष व कम कक्षा कक्ष हैं तथा एक कक्षा कक्ष में 15 बालक बैठाते हैं तो कुल 300 बालक बैठा सकते हैं। ऐसे में 300 बालकों से अधिक संख्या होने पर  विद्यालय को दो पारी में संचालित किया जाना चाहिए। जिन विद्यालयों में कक्षा कक्षों की संख्या कम है ऐसे में छात्रों को बैठाने की व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम होने चाहिए। 600 से अधिक नामांकन वाले विद्यालयों में बालको की बैठक व्यवस्था चिंताजनक होगी। बोर्ड परीक्षा में की गई बैठक व्यवस्था को आधार बनाए तो कक्षा कक्ष में बालकों का अनुपात 1:15 किया जाए तो उसके  आधार पर शिक्षक छात्र अनुपात 1:15 करना होगा। वर्तमान में शिक्षक छात्र अनुपात1:40 है । ऐसे में वैकल्पिक रूप से एक दिन छोड़कर कक्षा अनुसार बालकों को बुलाने की व्यवस्था से शिक्षकों की व्यवस्था हो सकती है। लेकिन इसमें कोर्स को कम करना पड़ सकता है। संगठन द्वारा ऐसे सभी सुझाव पत्र द्वारा सरकार को भेजे गए हैं। बिना पुख्ता इंतजाम किए हुए बच्चों को अभी हाल ही में बुलाना संभव नहीं हो पाता है तो करोना महामारी कम होने पर छात्रों को बुलाया जाना चाहिए। उपार्जित अवकाश की मांग जो शिक्षक  ग्रीष्मावकाश में कोविड-19 महामारी में ड्यूटी दिए हैं उन्हें नियमानुसार उपार्जित अवकाश का लाभ दिया जाए। विभाग संगठन मंत्री कालूराम मीणा, जिला अध्यक्ष परिधि शर्मा, गुलाब चंद शर्मा, राजेंद्र शर्मा आदि ने सुझाव दिए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना