निराश लाैटे सैकड़ाें किसान:डीएपी के लिए किसानाें की भीड़, क्रय-विक्रय सहकारी समिति में एक ही दिन में खत्म हाे गए 700 कट्टे डीएपी

दौसा20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दौसा| क्रय विक्रय सहकारी समिति में डीएपी के लिए लगी भीड़। - Dainik Bhaskar
दौसा| क्रय विक्रय सहकारी समिति में डीएपी के लिए लगी भीड़।
  • खाद नहीं मिलने से निराश लाैटे सैकड़ाें किसान

जिले में सरसाें की बाेआई तेज हाे गई, लेकिन किसानाें काे डीएपी खाद की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। बुधवार काे क्रय-विक्रय सहकारी समिति में डीएपी आया, लेकिन दाेपहर तक खाद खत्म हाे गया। इसके चलते कई किसान खाद नहीं मिलने से निराश लाैट गए।क्रय-विक्रय सहकारी समिति में बुधवार सुबह 700 कट्टे डीएपी खाद आया था। इसका पता चलते ही किसानाें की भीड़ लग गई। खाद के लिए समिति में किसानाें की लंबी कतार लगी रही। किसानाें काे आधार कार्ड से दाे-दाे कट्टे ही डीएपी दिया गया। दाेपहर में खाद खत्म हाे गया। इसके चलते सैकड़ाें किसान लाैट गए। किसानाें काे बाजार में भी डीएपी नहीं मिला।

अधिकांश ग्राम सेवा सहकारी समितियाें में डीएपी नहीं है। इसके चलते किसान खाद लेने के लिए दाैसा आ रहे हैं। किसानाें काे मजबूरन बाजार में महंगे दाम पर खाद खरीदना पड़ रहा है। निमाली निवासी रामदयाल ने बताया कि डीएपी लेने आया है, लेकिन समिति में अब खाद नहीं है। चावंड निवासी सुरज्ञान मीणा ने बताया कि सरसाें की बाेआई के लिए डीएपी लेने आया है, लेकिन डीएपी नहीं मिला। समिति में खाद नहीं हाेने से कई किसान चक्कर लगाकर वापस लाैट गए।15 हजार हेक्टेयर में हाे चुकी है सरसाें की बुवाई जिले में इस बार 65 हजार हेक्टेयर में सरसाें की बाेआई का लक्ष्य रखा गया है। अब तक करीब 15 हजार हेक्टेयर में सरसाें की बाेआई हाे चुकी है। अब सरसाें की बाेआई तेज हाे गई है। कृषि विस्तार के उपनिदेशक शंकरलाल मीणा का कहना है कि डीएपी जल्द अाएगा।

खबरें और भी हैं...