आस्था:श्रद्धालुओं को नहीं हो सके महाबली के दर्शन

दौसा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मंदिर के बाहर धोक लगाकर मांगी मनौती, मेहंदीपुर बालाजी मंदिर के पट पांच दिन के लिए बंद

मेहंदीपुर बालाजी दशहरे के लक्खी मेले पर बड़ी तादाद में लोगों की आवक के मद्देनजर कोरोना की सतर्कता को लेकर मंदिर ट्रस्ट ने बुधवार से आगामी पांच दिनों के लिए बालाजी के दर्शनों पर रोक लगाने का निर्णय लिया है।श्री बालाजी महाराज घाटा मेहंदीपुर ट्रस्ट की जनहित में की गई पहल व प्रशासनिक सहमति के चलते 17 अक्टूबर तक मेहंदीपुर बालाजी मंदिर में श्रद्धालुओं के दर्शनों पर रोक रहेगी।

बुधवार को महाबली के दर्शनों की आस में देश के विभिन्न हिस्सों से आए श्रद्धालुओं ने बंद कपाटों के बहार धोक लगाकर मनौती मांगी। हालांकि मंदिर बंद होने के कारण उन्हें बालाजी महाराज के दर्शन नहीं हो सके लेकिन श्रद्धालु लंबे समय तक बालाजी दरबार के बाहर डटे रहे ऐसे में मंदिर ट्रस्ट द्वारा बार-बार अलाटमेंट कर बालाजी आने वाले श्रद्धालुओं को वापस अपने गंतव्य स्थान पर पहुंचने की सलाह दी जाती रही। गौरतलब है कि दशहरा मेले पर देश के विभिन्न देशों से पैदल श्रद्धालु के जत्थे हजारों की तादाद में लाल पताका लहराते हुए नाचते गाते, ढोल, बाजे के साथ बालाजी दर्शनों के लिए पहुंचकर रेलिगो पर पताका चढ़ाकर पदयात्रा पूर्ण की अरदास लगा रहे है।

खबरें और भी हैं...