कोरोना का खौफ:जौंण मिश्रों की ढाणी में 20 कोरोना पॉजिटिव आने के बाद भी प्रशासन नहीं ले रहा सुध

दौसा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पापडदा | ग्राम जौंण मिश्रों की ढाणी के सेकंडरी स्कूल में अपने स्तर पर 25 अप्रैल से रह रहा कोरोना पाॅजिटिव। - Dainik Bhaskar
पापडदा | ग्राम जौंण मिश्रों की ढाणी के सेकंडरी स्कूल में अपने स्तर पर 25 अप्रैल से रह रहा कोरोना पाॅजिटिव।
  • नहीं पहुंची चिकित्सा टीम, लोगों में कोरोना को लेकर भय व्याप्त
  • बुधवार को 18 जनों की रिपोर्ट पॉजिटव आई

पापडदा ग्राम जौंण मिश्रों की ढाणी में बुधवार को कुल 20 कोरोना पॉजिटिव आने के बाद गांव ढाणियों के लोगों में कोरोना को लेकर अब भय व्याप्त है। लेकिन प्रशासन व चिकित्सा विभाग ने ढाणी की सुध नहीं ली है। जानकारी के अनुसार यहां गत सप्ताह जांच में दो लोगों को कोरोना हुआ था। इसके बाद यहां ढाणी में लोगों ने आशंका और शारीरिक लक्षणों के चलते पिछले दो तीन दिनों मे अन्य लोगों ने भी सैंपलिंग करवाई तो बुधवार को यहां 18 अन्य लोगों की रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आई है। यहां ढाणी में आए कोरोना पॉजिटिव में एक का इलाज जयपुरमें चल रहा है।वहीं दूसरा कोरोना पॉजिटिव यहां के सेकंडरी स्कूल में गत 25 अप्रैल से अपने आप ही क्वारिन्टाइन होकर कोरोना की जंग जीतने में जुटा है।

जो दौसा के चिकित्सक से इलाज ले रहा है और घर वाले उसे सुबह शाम खाद्य सामग्री पहुंचा रहे हैं। बताया कि अभी गत 4 दिनों से किसी चिकित्सीय महकमें के लोगों ने ढाणी के अन्य लोगों की सुध नहीं ली। वहीं इस ढाणी में सड़क के दोनों और आबादी बसी हुई है। बीच में होकर कई गांवों का सड़क मार्ग है जिसमें हर पल वाहनों की आवाजाही बनी हुई है।ढाणी में बाहरी लोगों के आवागमन से कई अन्य गांव ढाणियां में भी संक्रमण फैल सकता है। ग्रामीणों ने बताया ढाणी में अन्य बीमार व कोरोना पाॅजिटिवों को अब बेहतर चिकित्सा की आवश्यकता है। लेकिन यहां तो चिकित्सा के नाम पर कोई नहीं पहुंचा।

पापडदा अस्पताल प्रभारी डाक्टर रवि मीणा ने बताया कि ढाणी में मेडिकल टीम भेज दी गई है। सभी को उचित परामर्श के साथ इलाज दिया जाएगा। नांगलराजावतानउपखंड अधिकारी बृजेंद्र मीणा ने बताया कि अभी अधिकारिक तौर पर कोरोना पॉजिटिव आने वालों की रिपोर्ट नहीं आई है। रिपोर्ट आते ही कंटेनमेंट एरिया घोषित कर दिया जाएगा। सभी को प्रशासन की ओर से हर तरह की मदद की जाएगी।

खबरें और भी हैं...