• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Dausa
  • If The Crowd Did Not Gather In The Protest Organized Against Inflation, Then NREGA Workers Were Called On The Pretext Of Increasing Wages, After The Poll Was Opened, There Was A Ruckus

विरोध प्रदर्शन में कांग्रेस की किरकिरी:महंगाई के विरोध में प्रदर्शन में भीड़ नहीं जुटी तो मजदूरी बढ़ाने का झांसा देकर नरेगा श्रमिकों को बुलाया, पोल खुली तो भाजपा ने की कार्रवाई की मांग

दौसा5 महीने पहले
बांदीकुई के बसवा में प्रदर्शन कांग्रेस कार्यकर्ता

प्रदेश कांग्रेस में चल रहे सियासी संकट व गुटबाजी का असर अब जमीनी स्तर पर भी देखने को मिल रहा है। पार्टी द्वारा महंगाई के विरोध में किए जा रहे धरना प्रदर्शनों में कार्यकर्ताओं की भीड़ नहीं जुटने से पदाधिकारियों के पसीने छूट रहे हैं। ऐसे में नरेगा श्रमिकों को झांसा देकर प्रदर्शन में भीड़ जुटाने की कवायद की जा रही है। ऐसा ही मामला सामने आया है बांदीकुई विधानसभा क्षेत्र में। यहां बसवा में कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा पेट्रोल पंप पर किए गए प्रदर्शन में नरेगा श्रमिकों को बुलाने पर कांग्रेस की जमकर किरकिरी हो रही है।

भीड़ नहीं जुटी तो बुलाए मजदूर
कांग्रेस संगठन के आह्वान पर इन दिनों राज्य के सभी ब्लॉक में महंगाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं। जहां बसवा में पेट्रोल-डीजल व रसोई गैस के दामों में बढ़ोतरी के विरोध में कांग्रेस के इस प्रदर्शन में मुश्किल से दर्जनभर कार्यकर्ता भी नहीं जुट पाए। ऐसे में ज्यादा भीड़ जुटाने के लिए आयोजकों ने पास में ही चल रहे नरेगा मस्टरोल में मजदूरी कर रहे श्रमिकों को मजदूरी बढ़वाने का झांसा देकर प्रदर्शन में बुला लिया।

महिलाओं ने लगाए ठुमके
मजदूरी बढ़ने की खुशी में नरेगा श्रमिकों ने धरनास्थल पर केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया। यही नहीं खुशी के मारे महिला नरेगा श्रमिकों ने लोक गीतों पर जमकर ठुमके भी लगाए। नरेगा श्रमिकों के प्रदर्शन में शामिल होने का भण्डाफोड होने के बाद प्रशासन भी पशोपेश में पड़ गया है। वहीं जिला परिषद सीइओ एलके बालोत ने शिकायत मिलने पर जांच कराने की बात कही है।

मीडिया के सामने खुली पोल
मजेदार बात तो यह रही कि नरेगा श्रमिकों से जब मौके पर मौजूद मीडियाकर्मियों ने बात की तो उन्होंने सच्चाई उगल दी। इससे कांग्रेस कार्यकर्ताओं की पोल खुल गई। इसके बाद उनकी जमकर किरकिरी हो रही है। भाजपा कार्यकर्ता भी इस पर कटाक्ष करने का मौका नहीं चूक रहे। इस सम्बन्ध में कांग्रेस पदाधिकारी अधिकृत बयान देने से बच रहे हैं।

वहीं विरोध प्रदर्शन में शामिल एक कांग्रेस कार्यकर्ता ने बताया कि प्रदर्शन के दौरान आंधी आने से वहां से लौट रही नरेगा श्रमिक महिलाएं पेट्रोल पंप पर रुकी थीं, जो महंगाई के मुद्दे पर शामिल हुई थीं। किसी बात का प्रलोभन देकर बुलाने की बात गलत है।

ज्ञापन सौंपकर कार्रवाई की मांग
भाजपा कार्यकर्ताओं ने समाज कल्याण बोर्ड की पूर्व सदस्य सुनीता सैनी के नेतृत्व में एसडीएम को ज्ञापन सौंपकर कार्रवाई की मांग की है। सैनी ने बताया कि युवा कांग्रेस ने जो विरोध प्रदर्शन किया था, उसमें नरेगा श्रमिकों दोगुनी मजदूरी का प्रलोभन देकर जबरन शामिल किया है। इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। इस दौरान भाजपा पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...