जन आधार:जन आधार में 10 जनवरी तक नाम नहीं जुड़वाया तो राशन सामग्री से होंगे वंचित

दौसा16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले में 69 हजार 797 व्यक्तियों के नाम राशन कार्ड में तो दर्ज हैं, लेकिन जन आधार कार्ड से जुड़े नहीं

जिले में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत खाद्य सुरक्षा में चयनित परिवारों के 69 हजार 797 लोग जन आधार कार्ड में नाम नहीं जुड़वाने से खाद्य सामग्री से वंचित हो सकते हैं। पात्र व्यक्तियों को 10 जनवरी तक नजदीकी ईमित्र पर जाकर अपना नाम जुड़वाना अनिवार्य होगा। लिहाजा, जन आधार कार्ड से खाद्य सामग्री मिलने से फर्जीवाड़े में भी कमी आएगी और पात्र व्यक्तियों को एनएफएसए का पर्याप्त लाभ मिल सकेगा। दरअसल, जिले में राशन लेने वालों के जन आधार कार्ड का सर्वे किया गया है, जिसमें जिले के राशन लेने वाले 69 हजार 797 व्यक्तियों के नाम राशन कार्ड में तो दर्ज हैं, लेकिन जन आधार कार्ड से जुड़े हुए नहीं है। खाद्य सुरक्षा परिवार के ऎसे सदस्य, जिनका अभी भी जन आधार कार्ड से नाम नहीं जुड़ा है, वे ई-मित्र पर जाकर जन आधार में नामांकन करा सकते हैं, ताकि निकट भविष्य में उन्हें खाद्य सुरक्षा के तहत राशन प्राप्त करने में किसी प्रकार की परेशानी न हो। जन आधार कार्ड से राशन मिलने से फर्जीवाड़े में भी कमी आएगी और पात्र लोग लाभान्वित होंगे।

जनआधार कार्ड से ही मिलेगाी राशन सामग्री
खाद्य सुरक्षा में शामिल परिवारों को पहले राशन कार्ड में दर्ज सदस्यों के आधार पर राशन मिलता था, लेकिन अब जन आधार कार्ड में दर्ज सदस्यों की संख्या के आधार पर राशन मिलेगा। जिनका नाम जनआधार में नहीं है। उनका राशन अब नहीं मिलेगा। क्योंकि अब राशन कार्ड के बजाय जन आधार कार्ड के आधार पर ही राशन सामग्री वितरित की जाएगी।खाद्य सुरक्षा में लाभान्वित परिवार के ऐसे सदस्य जिनका नाम जन आधार कार्ड में नहीं हुआ है अब उनको राशन सामग्री मिलना बंद हो सकती है। राशन लेने वाले ऎसे व्यक्ति 10 जनवरी तक अपना नाम जन आधार कार्ड में ई-मित्र पर जाकर जुड़वा सकते हैं। इसके बाद जन आधार कार्ड में नाम नहीं होने पर राशन नहीं मिलेगा।

जन आधार कार्ड में नाम जुड़ने से कुल 67 हजार 797 वंचित हैं, जिनमें दौसा ब्लाक में 5 हजार 522, लालसोट में 12 हजार 646, सिकराय में 13 हजार 378, महवा में 11 हजार 528, लवाण में 9 हजार 873 व बांदीकुई में 13 हजार 433 लोगों के नाम राशन कार्ड में जुड़े हुए हैं, लेकिन अभी तक जन आधार कार्ड में नहीं जुड़े हैं। वहीं शहरी क्षेत्र में तीन हजार 367 लोगों के नाम जन आधार कार्ड में नहीं जुड़े हैं, जिनमें बंदीकुई में 405, दौसा में एक हजार 858 व लालसोट शहरी क्षेत्र में एक हजार 106 लोगों के नाम नहीं जुड़े हुए हैं।

^जन आधार कार्ड से खाद्य सामग्री मिलने से इसमें फर्जीवाड़े में कमी आएगी। पहले राशन कार्ड के आधार पर राशन सामग्री मिलती थी, जिसमें राशन कार्ड में लोग फर्जी नाम दर्ज कराकर राशन सामग्री उठा लेते थे, लेकिन अब जन आधार कार्ड से राशन सामग्री मिलने से फर्जीवाड़े में कमी आएगी। आर.के.मीणा एडीएम शीघ्र जन आधार कार्ड में नाम जुड़वाने की अपील
^आयोजना विभाग द्वारा जिले में खाद्य सामग्री के लाभार्थी परिवार के सदस्यों के जन आधार कार्ड में नाम नहीं जुड़ने की जानकारी के लिए सर्वे किया गया था। जिसमें खाद्य सामग्री लेने वाले परिवार के 69 हजार 797 लोगों के नाम जन आधार कार्ड से जुड़े हुए नहीं मिले हैं। सरकार निकट भविष्य में राशन कार्ड के बजाय जन आधार कार्ड से खाद्य सामग्री का वितरण करने की योजना बना रही है। ऐसे में लोगों से शीघ्र जन आधार कार्ड में नाम जुड़वाने की अपील की है।
विनोद कुमार मीणा, सहायक निदेशक आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग

खबरें और भी हैं...