जल संकट:अरनिया में 2 माह से नलकूप बंद, बसवा में भी पीने के पानी की समस्या, ग्रामीणों का जलदाय विभाग के खिलाफ प्रदर्शन

दौसा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोलवा।  पानी की समस्या गहराने से आक्रोशित ग्रामीणों ने विरोध प्रदर्शन किया। - Dainik Bhaskar
कोलवा। पानी की समस्या गहराने से आक्रोशित ग्रामीणों ने विरोध प्रदर्शन किया।
  • गर्मी और कोरोना महामारी के कारण लोग घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे, पानी के लिए हो रहे परेशान

अरनिया की ढाबा वाली ढाणी में दो माह से जलदाय विभाग की मोटर खराब होने के कारण महंगे दामों में टैंकर खरीदने को मजबूर ग्रामीणों का गुरुवार को गुस्सा फूट पड़ा। उन्होंने नलकूप पर पहुंचकर जलदाय विभाग के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। कमला देवी व उर्मिला देवी ने बताया कि गांव के ढाबा वाली ढाणी का ट्यूबवेल 2 माह से खराब पड़ा है, लेकिन विभाग उसे ठीक नहीं करवा रहा है। राकेश सैनी, पिंटू बैंसला ने बताया कि गर्मी के दिनों में पेयजल संकट के चलते उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

ग्रामीण राजकुमार ने बताया कि इस संबंध में कई बार विभाग के अधिकारियों को अवगत कराया, लेकिन पेयजल समस्या का समाधान नहीं किया जा रहा है। ग्रामीणों ने शीघ्र समस्या का समाधान नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी। कहा, गर्मी की दस्तक हो चुकी है। कोरोना के कारण भी पानी की जरूरत बढ़ गई है, मगर जलदाय विभाग लापरवाही बरत रहा है।

भास्कर न्यूज़ | बसवाकस्बे में जलदाय विभाग के अधिकारियों की लापरवाही के कारण पानी का संकट गहरा गया है जिसको लेकर लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने बताया कि कोरोना महामारी के कारण सरकार ने लॉकडाउन लगा रखा है। पुलिस रोजाना लोगों को घरों में ही रहने की कह रही है लेकिन जलदाय विभाग पानी नहीं दे रहे जिसके कारण लोगों को पानी के लिए भटकना पड़ता है। लोगों ने बताया कि बड़ा बाजार, सोनी बाजार, रामलीला मैदान, झालानी मोहल्ला, निमला बाजार में 8 दिन से पानी नहीं आ रहा।

एक तरफ कोरोना महामारी और दूसरी और पानी की समस्या लेकिन जलदाय अधिकारियों ने अपनी आंखें बंद कर रखी है। लोगों को महंगे दामों में टैंकर से पानी खरीदकर काम चलाना पड़ रहा है। विभाग में शिकायत करने जाते हैं तो वहां पर अधिकारी मिलते नहीं हैं। कपूर सोनी, सुकेश सोनी, जगदीश सोनी, कुणाल सोनी, सीताराम खुटेटा,ओमप्रकाश खुलेगा, महेश गुप्ता आदि मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...