बर्फीली हवाओं ने छुड़ाई लोगों की कंपकंपी:दौसा में सुबह का पारा 6 डिग्री सेल्सियस दर्ज, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

दौसा5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दौसा में बीती रात पाला गिरने से सरसों की फसल पर जमी ओस की बूंदें। - Dainik Bhaskar
दौसा में बीती रात पाला गिरने से सरसों की फसल पर जमी ओस की बूंदें।

जिले में सर्दी का कम होने की बजाय लगातार बढ़ रही है। बर्फीली हवाएं लोगों की कंपकंपी छुड़ा रही हैं। इसका सबसे ज्यादा असर मासूमों व बेजुबानों पर हो रहा है। जिले में मंगलवार सुबह पारा 6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सोमवार को आसमान साफ रहने से तेज धूप खिली थी, जिसने सर्द हवाओं को बेअसर कर दिया था। इससे बाजारों में लोगों की खासी चहल-पहल देखने को मिली थी। कड़ाके की सर्दी से लाेगाें की दिनचर्या प्रभावित रही। जगह-जगह लाेग अलाव जलाकर तापते नजर आए। बता दें कि शुक्रवार व शनिवार रात काे हुई बारिश के बाद सर्दी बढ़ गई है। मौसम विभाग ने भी आगामी दो दिन सर्द हवाओं के साथ तापमान में गिरावट का अलर्ट जारी किया है।

अस्पतालों में बढ़ रहे मरीज
कड़ाके की सर्दी का सबसे ज्यादा असर बच्चों पर हो रहा है। छोटे बच्चों में खांसी, नजला, बुखार की शिकायतें बढ़ रही हैं। जिला अस्पताल में इलाज के लिए भीड़ देखी जा रही है। बाल रोग विशेषज्ञों का कहना है कि ठंड के मौसम में अधिकतर बच्चे बुखार, डायरिया, निमोनिया से पीड़ित हो रहे हैं। इस मौसम में बच्चों को सर्दी से बचाना चाहिए। ये दिन बच्चों के लिए बेहद संवेदनशील होते हैं। जरा सी लापरवाही बच्चों को नुकसान दे सकती है। ऐसे में अभिभावकों को बच्चों पर बहुत ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है।

ठंड से बचाव के उपाय
-गर्म कपड़े पहने, बाहर जाने से बचें।
-कमरों में वेंटिलेशन खुले रखे, ताकि हवा पास होती रही।
-हल्का गुनगुना पानी पिएं। ठंडे पानी से बचें।
-आइसक्रीम, ठंडी चीजों से परहेज रखें।

खबरें और भी हैं...