पेयजल की किल्लत:देवनारायण मंदिर और छात्रावास में पेयजल की किल्लत, आक्रोश

दौसा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दौसा. गुर्जर छात्रावास में पानी की समस्या को लेकर कलेक्टर को ज्ञापन देने पहुंचे गुर्जर समाज के पदाधिकारी। - Dainik Bhaskar
दौसा. गुर्जर छात्रावास में पानी की समस्या को लेकर कलेक्टर को ज्ञापन देने पहुंचे गुर्जर समाज के पदाधिकारी।

श्रीदेवनारायण मंदिर व छात्रावास में पेयजल की किल्लत है। इससे लोगों में आक्रोश है। इस सिलसिले में मंगलवार श्रीदेवनारायण मंदिर एवं छात्रावास विकास सेवा समिति की ओर से कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा और टैंकर से पेयजल सप्लाई कराने की मांग की। युवा गुर्जर महासभा के प्रदेश अध्यक्ष एडवाेकेट महावीर डाेई ने बताया कि छात्रावास परिसर में 70 से 80 छात्र रहते हैं, जाे विभिन्न क्लास में अध्ययनरत हैं। साथ मंदिर परिसर में आगंतुकाें के लिए ठहरने की व्यवस्था भी है, लेकिन वहां पानी की किल्लत है। छात्राें और आगंतुकाें की सुविधा के मद्देनजर राेजाना एक टैंकर पानी की सप्लाई की जाए। इसके लिए कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा है।

नांगल बैरसी सड़क में गड्ढों से वाहन चालकों को परेशानी चांदराना | नांगल बैरसी-दौसा सडक मार्ग पर जगह जगह गड्ढे हो रहे हैं। जिससे वाहन चालकों को परेशानी उठानी पड़ रही है। लोगों ने बताया कि जीरोता पुलिया से नांगल बैरसी तक करीब 7 किमी टुकड़े में जगह जगह गड्ढ़े हो रहे हैं। कई जगह डामर उखड़ने से पुरानी सड़क बाहर निकल आई। नकची घाटी से दौसा आवाजाही के लिए नांगल बैरसी सडक सीधा मार्ग पड़ता है। अधिकांश राहगीर इस रास्ते से आवाजाहीकरते है। कोलीवाडा, सरपुरा, बोरई, लालवास, पडासोली, नेवर, नांगल बोहरा, नांगल बैरसी,चांदराना सहित कई गांवों के लोग इस सड़क मार्ग से होकर आवाजाही करते है।

खबरें और भी हैं...