पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

संकट की घड़ी में फिर तारणहार बनेंगे होमगार्ड:गत वर्ष लॉकडाउन में डयूटी के बाद 8 माह बेरोजगार रहे होमगार्ड जवानों की फिर याद आई, 270 को लगाया

दौसा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना महामारी से निपटने के लिए पुलिस थानों व कोविड सेंटराें में तैनात किया

पेट की आग क्या होती है भला होमगार्ड के जवानों से अधिक और कोई नहीं जानता। गत वर्ष लाॅकडाउन में ड्यूटी के बाद 8 माह बेरोजगार रहने के बाद फिर से माहमारी फैली तो सरकार को इनकी याद आई है। अपने जीवन को संकट में डालते हुए पुलिस के साथ कंधे से कंधा मिलाकर ड्यूटी के लिए तैनात हो गए है। जिले में कोविड-19 संक्रमण की भयावह स्थिति से निबटने व कोरोना चेन तोड़ने के लिए पुलिस के तारणहार के रूप में सरकार और पुलिस महकमे के आला अफसरों को फिर से होमगार्ड जवानों की याद आई है।

जिले में गत वर्ष लाॅकडाउन में ड्यूटी के बाद 8 माह बेरोजगार रहने के बाद अब पुलिस मुख्यालय के उच्चाधिकारियों की ओर से होमगार्ड के 270 जवानों को कोरोना महामारी की इमरजेंसी सेवाओं के लिए सभी पुलिस थानों और विभिन्न कोविड सेंटरों पर तैनात कर दिया गया है। तैनात होमगार्ड जवान आम लोगों को मास्क पहनने, माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने व संयुक्त दल बनाने में मदद करेंगे।

डंडा भी खुद खरीदते है... फिर भी करते हैं इमरजेंसी ड्यूटी

महामारी में लोगों की सुरक्षा के लिए होमगार्ड के जवानों को शहर के कोविडग्रस्त इलाकों, चौराहों, गलियों, कंटेनमेंट जोन पर तैनात किया गया, लेकिन खुद की सुरक्षा के लिए उनको कोई संसाधन उपलब्ध नहीं कराए जाते हैं। होमगार्ड के जवानों को ड्यूटी के दौरान डंडा भी खुद के पैसों से खरीदकर लाना पड़ता है और खुद की सुरक्षा करनी पड़ती है। बिना संसाधनों के जवानों को सड़कों पर उतार दिया जाता है।

आगे भी भरोसा नहीं, कब तक मिलेगा रोजगार

कोरोना महामारी की विषम हालात में पुलिस का होमगार्ड सहारा है, हालांकि आदेश के मुताबिक होमगार्ड महज कोरोना महामारी में ही सेवाएं दे सकेंगे। इसके बाद इनका कोई अता-पता नहीं कि आगे इनको नियमित सेवा देने या नियमितीकरण का अवसर मिलेगा या नहीं। होमगार्ड को पूरे साल रोजगार नहीं मिलता है। ऐसे में उनके सामने परिवार का पालन पोषण करना मुश्किल होता हैं।

जयपुर व कई जिलांें में भी दे रहे हैं सेवाएं

होमगार्ड के जवानों ने कोविड-19 की पहली लहर में पुलिस के जवानों के साथ फ्रंट लाइन वाॅरियर्स के रूप में सेवाएं दी थी। अब दौसा के होमगार्ड जयपुर सहित अन्य जिलों में भी सेवाएं दे रहे हैं। विपरीत हालात में भी होमगार्ड दृढ़ इच्छा शक्ति के साथ सेवाएं देने में आगे आ रहे हैं।
-रामशरण, कंपनी कमांडर

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय अनुसार अपने प्रयासों को अंजाम देते रहें। उचित परिणाम हासिल होंगे। युवा वर्ग अपने लक्ष्य के प्रति ध्यान केंद्रित रखें। समय अनुकूल है इसका भरपूर सदुपयोग करें। कुछ समय अध्यात्म में व्यतीत कर...

    और पढ़ें