पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Dausa
  • Last Year, There Was Only Corona Infection Up To The Cities, But Now Patients From House To House, Even If Not, Will Suffer A Great Explosion

गांवों में कहर न बरपा दे कोरोना:पिछले वर्ष सिर्फ शहरों तक ही था कोरोना संक्रमण, लेकिन अब गांव-ढाणियों तक घर-घर में मरीज, नहीं संभले तो हाल बुरे

दौसाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दुकान में खरीदारी करती भीड़ - Dainik Bhaskar
दुकान में खरीदारी करती भीड़

एक वर्ष पूर्व जब कोरोना ने कहर बरपाया था। उस समय जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना बहुत कम पहुंचा था। सबका मानना था कि गांवों के लोग खेती-किसानी से जुड़े होने के कारण उनकी इम्यूनिटी मजबूत होती है, लेकिन इस बार गांवों में मिल रहे संक्रमितों ने सबकी चिंता बढ़ा दी है। गांवों में गाइडलाइन की खूब धज्जियां उड़ी हैं। शादी-विवाह एवं अन्य पारिवारिक कार्यक्रमों में भी खूब लापरवाही बरती जा रही है। यदि लोगों ने अब भी लापरवाही बरतना बंद नहीं किया तो गांवों की स्थिति बेहद गंभीर हो सकती है। हालांकि चिकित्सा विभाग ने आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की टीम को घर-घर जाकर सर्वे करने व संभावित कोरोना मरीजों को जांच के लिए प्रोत्साहित करने के आदेश दिए हुए हैं।

ग्रामीण क्षेत्रों भी इस वर्ष कोरोना संक्रमण ने कहर बरपा रखा है। प्रत्येक गांव में लोग बीमार हैं और मौतें भी हो रही हैं। शादी एवं अन्य पारिवारिक कार्यक्रमों में लोग एक दूसरे के संपर्क में आए और कोरोना संक्रमण बढ़ा है। ब्लाॅकवार आंकड़ों की बात करें तो दौसा में सर्वाधिक 965, बांदीकुई में 329, सिकराय में 325, लालसोट में 356 व महवा में 377 समेत जिले में 2357 एक्टिव केस मौजूद हैं।

घर में किया जा रहा आइसोलेट
चिकित्सा विभाग का मानना है कि दूसरे शहरों से नौकरी करने वाले लोग भी गांवों में आ रहे हैं। ऐसे लोगों को जांच होने के बाद रिपोर्ट आने तक घर में ही आइसोलेट रहने के निर्देश दिए जा रहे हैं। यदि संक्रमण पाया जाता है तो उनको घर पर ही दवा उपलब्ध कराई जा रही है। जिले में चलाए जा रहे जागरूकता अभियान के बाद अब ग्रामीण भी सतर्कता बरत रहे हैं। हालांकि शादी ब्याह हो या अंतिम संस्कार कहीं भी गाइडलाइन का पालन नहीं किया जा रहा है। भले ही इस दौरान संख्या कम रहे, लेकिन शारीरिक दूरी अथवा हाथ धोने का किसी को ख्याल भी नहीं आता।

खबरें और भी हैं...