चिकित्सा मंत्री का BJP पर बड़ा हमला:बोले- उपचुनावों में हार हुई तब अक्ल आई, यदि एक साल पहले कृषि कानून वापस ले लेते तो 700 किसानों की जान नहीं जाती

दौसाएक महीने पहले
दौसा बाईपास पर युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मिलते चिकित्सा मंत्री परसादीलाल मीणा।

चिकित्सा मंत्री परसादीलाल मीणा ने रविवार को हुई कांग्रेस की रैली में ​हिन्दुत्व व हिन्दुत्वादी के मुद्दे पर कहा कि बीजेपी को तो सवाल करना ही है। लेकिन राहुल गांधी ने जो बात कही वह बिल्कुल सत्य है। महात्मा गांधी की छाती में गोली मारने वाले लोग कौन थे सब लोग जानते हैं। कांग्रेस ने देश की आजादी की लड़ाई लड़ने से लेकर देश का निर्माण तक किया। मैं मानता हूं आज भी कांग्रेस सही मुददों पर है।

मंत्री ने यह बात सोमवार को अलवर जाते वक्त दौसा बाईपास पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही।

उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन के मुद्दे पर सरकार को घुटने टेकने पड़े। मुआवजा देना पड़ा, केस वापस लेने पड़े। लेकिन प्रधानमंत्री की हठधर्मिता है कि दिल्ली के पास होने के बाद भी वे एक भी दिन किसानों से मिलने नहीं गए। जब उपचुनावों में सारी जगह जमानत जब्त हो गई तब जाकर मोदीजी को अक्ल आई है। अगर एक साल ही काले कानून वापस ले लिए जाते तो 700 किसान क्यों मारे जाते। क्यों उनके परिवार वाले बेघर होते, यह पीएम की सबसे बड़ी गलती है।

मेवाराम का पता नहीं, सरकार तो रिपिट होगी
मंत्री ने कहा कि राहुल गांधी जो मुददे उठा रहे हैं, वो जनहित के हैं। आज वे अकेले नेता हैं तो मोदीजी को चुनौती दे रहे हैं। महंगाई की रैली में हिन्दुत्व के मुद्दे पर उन्होंने कहा नेशनल रैली में सब मुद्दे होते हैं। कांग्रेस विधायक मेवराम जैन के बयान के सवाल पर मंत्री ने कहा मेवाराम खुद रिपिट होंगे या नहीं, लेकिन कांग्रेस सरकार रिपिट जरूर होगी।

ओमिक्रॉन ज्यादा खतरनाक नहीं
चिकित्सा मंत्री ने कहा कि सबको वेक्सीन लग जाएगी को किसी को ओमिक्रॉन का कोई खतरा नहीं रहेगा। देश में अभी तीसरी लहर जैसी कोई बात नहीं है। कुछेक संक्रमित आए थे उनका इलाज कराया गया है। आरटीपीसीआर जांच बढाने के लिए विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। जिससे ओमिक्रॉन ज्यादा फैले नहीं। लेकिन ये ज्यादा खतरनाक नहीं है। इससे घबराने की आवश्यकता नहीं है। प्रदेश में 4 पेशेंट आए थे, वो निगेटिव हो गए हैं। इस दौरान कांग्रेस नेता सुरेन्द्र गुर्जर के नेतृत्व में युवा कार्यकर्ताओं ने मंत्री का स्वागत किया।