• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • Dausa
  • Meena Samaj Will Travel To Jaipur On August 21 Under The Leadership Of MP Kirodi Lal, A Bike Rally Will Leave From Ramgarh Pachwara With 7 point Demands

आमागढ़ के बाद अब खोहगंग के लिए आंदोलन का ऐलान:सांसद किरोड़ीलाल के नेतृत्व में 21 अगस्त को जयपुर कूच करेगा मीणा समाज, बाइक रैली निकालेंगे, खुफिया तंत्र अलर्ट

दौसा4 महीने पहले
सांसद किरोड़ीलाल ने सरकार के सामने 7 सूत्रीय मांग रखी हैं।

जयपुर के आमागढ़ किले से भगवा झंडा हटाने को लेकर शुरू हुआ विवाद अब खोहगंग व आमेर तक पहुंच गया है। मीणा समाज की ऐतिहासिक धरोहरों से अवैध कब्जा हटाने समेत 7 सूत्रीय मांगों को लेकर राज्यसभा सांसद डॉ. किरोड़ीलाल मीणा ने 21 अगस्त को जयपुर कूच का ऐलान कर दिया है। दौसा जिले के रामगढ़ पचवारा स्थित बालाजी मैरिज गार्डन से मोटरसाइकिल रैली के रूप में मीणा समाज के साथ सांसद किरोड़ी लाल जयपुर के लिए कूच करेंगे। वे सात सूत्रीय मांगों को लेकर जयपुर पहुंचकर बड़ा आंदोलन भी कर सकते हैं। इसे लेकर गुप्त रणनीति बनाई जा रही है।

इन 7 मांगों को लेकर करेंगे जयपुर कूच

  1. हर साल जन्माष्टमी को चांदा मीणा गोत्र के लोग आसावरी माता की झांकी खोहगंग स्थित माताजी के मंदिर में लेकर आते हैं, जिन्हें कथित असामाजिक तत्वों द्वारा बाहर ही रोक दिया जाता है। ऐसे में आशावरी माता की झांकी को मंदिर तक प्रवेश दिया जाना चाहिए।
  2. खोहगंग के दुर्ग पर मीणा समाज का झंडा फहराने दिया जाए।
  3. मीणा समाज की आशावरी माता और शिवालय आदि धर्म स्थलों पर पूजा करने दी जाए। साथ ही मूर्ति तोड़ने वालों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई हो।
  4. खोहगंग में मीणा समाज के पूर्वजों के ऐतिहासिक किले, बावड़ी व छतरियों जहां पितृ तर्पण किया जाता रहा है, उन तलाई व मंदिरों से अतिक्रमण हटाकर करीब 88 हेक्टेयर जमीन को मीणा समाज को दिया जाए। खोहगंग में अतिक्रमण करके किए गए निर्माण तत्काल प्रभाव से हटाए जाएं।
  5. आमागढ़ में मीणा समाज का झंडा फहराया जाए। आमेर के शासकों के पितृ तर्पण वाली तलाई व अन्य ऐतिहासिक स्थलों को सुरक्षित किया जाए।
  6. पूरे राजस्थान में मीणा समाज से सम्बंधित सभी ऐतिहासिक राजवंशों की संपत्तियों को सूचीबद्ध कर उनका संरक्षण किया जाए।
  7. खोहगंग, आमागढ़ व आमेर सहित जहां भी मीणा शासक हुए, उनकी याद में इतिहास को सुरक्षित व संरक्षित किया जाए।

अलर्ट हुई पुलिस व खु​फिया तंत्र
सांसद मीणा के जयपुर कूच के ऐलान के बाद पुलिस-प्रशासन अलर्ट हो गया है। खुफिया तंत्र के जरिए आंदोलन की रणनीति के बारे में पल-पल की अपडेट जुटाई जा रही है। आशंका है कि सांसद किरोड़ीलाल पुलिस को चकमा देकर प्रस्तावित मोटरसाइकिल रैली के साथ राजधानी में कोई बड़ा आंदोलन भी कर सकते हैं।

गौरलतब है कि कुछ दिन पूर्व ही सांसद पुलिस के सख्त पहरे के बावजूद जंगल के रास्ते आमागढ़ किला पहुंचे थे। सांसद ने यहां मीन भगवान का झंडा फहरा दिया था। इससे पहले भी कई बार सांसद मीणा के कई बड़े आंदोलनों से पुलिस-प्रशासन मुसीबत में पड़ गया था।

खोहगंगा ही आज का खोह नागोरियान
जयपुर में आगरा रोड़ के पास स्थित खोह नागोरियान, पूर्व में खोहगंग के नाम से जाना जाता था। यहां मीणा राजा आलमसिंह का शासन हुआ करता था। उन्होंने यहां किला, बावड़ी व छतरी जैसे कई ऐतिहासिक स्थलों का निर्माण कराया तथा मीणा समाज के चांदा गोत्र की आशावरी माता का मंदिर भी यहां स्थित है। बाद में लोगों ने यहां की जमीनों पर अवैध कब्जे कर मकान बना लिए, रास्तों, छतरी व तालाब पर भी काफी हद तक कब्जे कर लिए।

जयपुर में आमागढ़ विवाद गहराया:किरोड़ीलाल ने फहराया मीणा समाज का झंडा, समर्थकों के साथ दी गिरफ्तारी; दोपहर में हुए रिहा

खबरें और भी हैं...