पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

आयोजन:शहीदों के परिजनों का सैन्य परंपरा से सम्मान

दौसा8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सप्तशक्ति कमांड की ओर से शहीदों के परिजनों की समस्याएं जानीं
  • बैजूपाड़ा के परमवीर चक्र से सम्मानित शहीद गुमानसिंह के परिवार जनों से भी मुलाकात की

देश की रक्षा करते हुए अपने प्राण न्यौछावर करने वाले जिले के वीर शहीदों के परिजनों का रविवार को सेना की परंपरा के अनुसार अधिकारियों ने सम्मानित कर उनका हौसला बढ़ाया। पूर्व सैनिक परिषद जिलाध्यक्ष विजेंद्र बासड़ा ने बताया कि भारतीय सेना की यह परंपरा रही है कि शहीदों के परिजनों को अपने परिवार का अंग मानती रही है। इसी परंपरा को निभाते हुए सप्तशक्ति कमांड की ओर से शहीदों की वीरांगनाओं को सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर 4 जेक राइफल के प्रतिनिधि सूबेदार तीर्थ सिंह, जिला प्रवक्ता समय सिंह बासड़ा, हवलदार नितिन शर्मा, नायक पवन कुमार आदि सैनिक प्रतिनिधियों ने शहीद रामबल गुर्जर निमाली की पत्नी गुलाब देवी को कमांडर की तरफ से भेजे गए उपहार भेंटकर सम्मानित किया। बैजूपाड़ा के परमवीर चक्र से सम्मानित शहीद सूबेदार गुमानसिंह के परिवार जनों से मुलाकात की।

इस दौरान असामाजिक तत्वों द्वारा शहीद की पुण्यतिथि पर परिजनों से मारपीट कर परेशान करने का मामला सामने आया। जिला प्रवक्ता समय सिंह बासड़ा ने बताया कि भारतीय सेना व पूर्व सैनिक परिषद की टीम हमेशा आपके साथ है। रामा देवी, गोपाल सिंह, शिव कुमार सिंह द्वारा बताई समस्या का शीघ्र निस्तारण करने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर विक्रम अवाना, भीम सिंह, टीकम सिंह अवाना, हरमुख, साधुराम, हिम्मत सिंह आदि लोग उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...