पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जल संकट गहराया:जिले में 15696 हैंडपंपों में 2297 सूखे व 628 नाकारा; भूजल स्तर 65 मीटर तक पहुंचा

दाैसाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मान गंज में खराब हैंडपंप। - Dainik Bhaskar
मान गंज में खराब हैंडपंप।
  • बांदीकुई, लालसोट क्षेत्र में स्थिति और भी गंभीर

जलदाय विभाग की ओर से जिले में 15 हजार 696 हैंडपंप लगा रखे हैं, लेकिन 2 हजार 297 हैंडपंप सूख गए। वहीं 628 हैंडपंप नाकारा हैं। इससे पानी का संकट गहराने लगा है। जिले में 15 हजार 696 हैंडपंपों में 2 हजार 297 सूख गए। यानी 14.63 फीसदी हैंडपंप सूख गए हैं। जिले में ग्रामीण क्षेत्र में हैंडपंप अधिक हैं।

जलदाय विभाग के दाैसा डिविजन क्षेत्र में दाैसा, लालसाेट व बांदीकुई क्षेत्र में 10 हजार 801 हैंडपंप हैं। इनमें शहरी क्षेत्र में 971 व ग्रामीण क्षेत्र में 9 हजार 830 हैंडपंपहै। इनमें से 1531 हैंडपंप सूख गए व 342 नाकारा हाे गए। महवा व सिकराय क्षेत्र में 4 हजार 895 हैंडपंप हैं। इनमें शहरी क्षेत्र में 38 व ग्रामीण क्षेत्र में 4 हजार 857 हैंडपंप हैं। जिनमें 766 सूख गए हैं। वहीं 286 नाकारा हाे गए। जिले में 1079 गांव हैं, जिनमें 670 गांवाें में हैंडपंप व सिंगल फेस है।

ऐसे में हैंडपंप खराब हाेने पर लाेगाें काे पेयजल संकट का सामना करना पड़ता है। जिले में भूजल स्तर 35 मीटर से करीब 65 मीटर है। भूजल स्तर नीचे जाने से हैंडपंप सूख रहे हैं। इसकाे देखते हुए अब जलदाय विभाग द्वारा 60 मीटर से अधिक भूजल स्तर हाेने पर हैंडपंप प्रस्तावित नहीं किए जा रहे हैं।

फैक्ट फाइल

  • जिले में गांव 1079
  • पाइप्ड याेजना 33
  • पंप एंड टैंक याेजना 146
  • जनता जल याेजना 99
  • क्षेत्रीय जल योजना 131
  • हैंडपंप व सिंगल फेस 670

40 हैंडपंप व 10 नलकूप लगाने की कार्रवाई की जा रही है

खराब हैंडपंपों की मरम्मत कराई जा रही है। जिले में पेयजल समस्या के समाधान के लिए मुख्यमंत्री बजट घोषणा के अनुसार प्रत्येक विधायक की अनुशंसा पर क्षेत्र में 40 हैंडपंप व 10 नलकूप लगाने के लिए विधायकों से सूची प्राप्त कर प्रस्ताव तैयार करने व स्वीकृति की कार्रवाई की जा रही है।
-रामनिवास मीणा, एसई, जलदाय विभाग, दाैसा

खबरें और भी हैं...