वकील का अपहरण व हनीट्रैप का मामला:पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार किया, अपहरण कर मांगी थी 15 लाख की फिरौती

दौसाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दौसा से वकील के अपहरण के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर ​लिया, जो पिछले एक साल से फरार चल रहा था। - Dainik Bhaskar
दौसा से वकील के अपहरण के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर ​लिया, जो पिछले एक साल से फरार चल रहा था।

जिले की कोतवाली थाना पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए वकील के अपहरण व हनीट्रैप मामले के मुख्य आरोपी को गिरफ्तार किया है। इसी मामले में पुलिस एक महिला समेत चार आरोपियों को पहले गिरफ्तार कर चुकी है। जिन्होंने वकील का अपहरण कर 15 लाख की फिरौती मांगी थी। इसके बाद से ही आरोपी फरार चल रहे थे। मंगलवार को पुलिस ने आरोपी संजय उर्फ राज मीणा निवासी जोड़ली का पुरा सपोटरा करौली को रफ्तार किया है।

कोतवाली में 21 जून 2020 को मनोज सैनी निवासी झालरा का बास ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जिसमें बताया था कि उसका भाई रमेश सैनी 19 जून को सुबह कोर्ट के लिए गया था। लेकिन शाम तक वापस नहीं लौटा। जहां उसके पिता मूलचंद के मोबाइल पर फोन आया कि तुम्हारा लड़का रमेश हमारे पास हिण्डौन के खेड़ी गांव में है। यदि रमेश सही सलामत चाहिए तो 15 लाख रुपए लेकर आ जाइए। इस पर परिजन पैसे लेकर गए तो वहां रमेश नहीं मिला। आरोपियों ने परिजनों को रमेश को जान से मारने की धमकी दी।

इस मामले में पुलिस ने निरंजन गुर्जर निवासी अटक हिण्डौन, संजीता मीणा निवासी सपोटरा, शुगर सिंह गुर्जर अटक व राजवीर जाट निवासी खेड़ी हिंडौन को पूर्व में गिरफ्तार कर चुकी है। मुख्य आरोपी को गिरफ्तार करने में पुलिस टीम के एएसआई बलवीरसिंह, मिश्रीलाल, नागपाल, कुम्हेरसिंह व लक्ष्मीनारायण को सफलता मिली है।

खबरें और भी हैं...