रेलयात्रियों की समस्या:बांदीकुई में रिजर्वेशन काउंटर दिनभर खुला रखने की जरूरत

दौसा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बांदीकुई | रिजर्वेेशन काउंटर पर लगी यात्रियों की भीड़। - Dainik Bhaskar
बांदीकुई | रिजर्वेेशन काउंटर पर लगी यात्रियों की भीड़।
  • रिजर्वेेशन काउंटर दो शिफ्टों में खुले तो मिले राहत, रेलवे को रोजाना मिल रहा 1 लाख का राजस्व

रेलवे जंक्शन पर इन दिनों हर रोज रिजर्वेशन के लिए लोग मारामारी करते नजर आ रहे है। इसके पीछे प्रमुख कारण रिजर्वेशन काउंटर का एक शिफ्ट में मात्र सात घंटे खुलना है। रोजाना 250 से अधिक यात्री रिजर्वेशन कराने आ रहे है। इससे रेलवे को हर रोज एक लाख रुपए की राजस्व मिल रही है। यदि रेलवे रिजर्वेशन काउंटर को दो शिफ्टों में संचालित करे तो इससे रिजर्वेशन के लिए मारामारी खत्म होगी साथ ही राजस्व भी बढेगी।

बांदीकुई जंक्शन पर रिजर्वेशन काउंटर सुबह 8 से दोपहर 3 बजे तक संचालित होता है। सात घंटे के इस समय में 250 से अधिक लोग रिजर्वेशन कराते है। ऐसे में एक रिजर्वेशन फॉर्म को पूरा करने में 2 से 5 मिनट का समय लगता है। इससे यात्रियों को परेशानी हो रही है।

रिजर्वेशन काउंटर को दो शिफ्टों करने की जरूरतबांदीकुई जंक्शन अजमेर-दिल्ली व आगरा के बीच का मीड रेलवे स्टेशन है। यहां से रोजाना 30 से अधिक यात्री ट्रेनों का आवागमन होता है। रोजाना यहां से दिल्ली, अजमेर, जयपुर, आगरा, वाराणासी, लखनऊ, जम्मू, हरिद्वार, ऋर्षिकेश, अहमदाबाद, प्रयागराज, काठगोदाम, जैसलमेर, जोधपुर जैसे बडी जगहों के लिए सीधी यात्री ट्रेनें जाती है। ऐसे में रिजर्वेशन काउंटर का समय दो शिफ्टों में हो तो इससे यात्री आसानी से अपना रिजर्वेशन करा सकेगे।

अलवर के समान यात्री ट्रेनें वहां दो शिफ्ट यहां एकअलवर जंक्शन के समान बांदीकुई जंक्शन पर यात्री ट्रेनें है। लेकिन इसके बाद भी अलवर में रिजर्वेशन काउंटर सुबह 8 से रात 8 बजे तक दो शिफ्टों में खुलता है। जबकि बांदीकुई जंक्शन पर यह एक शिफ्ट में सुबह 8 से दोपहर 3 बजे तक खुलता है। बांदीकुई में रिजर्वेशन काउंटर को सुबह 8 से रात 8 बजे तक दो शिफ्टों में खोला जाए तो इससे यात्रियों को राहत मिलेगी।

खबरें और भी हैं...