पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अभाव:राेडवेज डिपाे को राेज 5 लाख कमाई, लेकिन सुविधाएं जीरो

दाैसा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • हर दिन केंद्रीय बस स्टैंड दौसा से 47 बसों का संचालन, लेकिन न तो कैंटिन न ही पानी की अव्यवस्था

राेडवेज डिपाे परिसर में बस एंट्री करते ही यात्रियाें काे लगता है कि गाड़ी कच्चे रास्ते में उतर गई है। गड्ढाें के बीच से नाव की तरह हिचकाेले खाते हुए बस रुकती है ताे पता चलता है कि यह ताे केंद्रीय बस स्टेंड है। दाैसा राेडवेज डिपाे की राेजाना 5 लाख रुपए की कमाई है।

यात्री भार करीब 7 हजार तथा डेली 47 बसाें का संचालन हाेता है। दूसरे डिपाे की बसाें काे भी जाेड़ लें ताे करीब 100 बसें दाैसा केंद्रीय बस स्टेंड से हाेकर गुजरती हैं। इसके बावजूद यात्रियाें की दृष्टि से धैले की सुविधा नहीं है। केंद्रीय बस स्टेंड का उद्घाटन 1 फरवरी 2013 काे किया गया था। इन 7 साल के पीरियड में बस स्टेंड में यात्रियाें की सुविधा के लिए काेई डवलपमेंट नहीं हुआ। यात्रियाें काे चाय-पानी के लिए भी भटकना पड़ता है। बस स्टेंड परिसर में कैंटीन की सुविधा नहीं है। जनसुविधा के लिए भी यात्रियाें काे भटकना पड़ता है, क्याेंकि सुलभ शाैचालय एक काेने में काफी दूर बना है। पेयजल के नाम पर खुले में टंकी रखी है, जबकि यात्रियाें की सुविधा की दृष्टि से मेन बिल्डिंग के आजू-बाजू में ही प्याऊ हाेना जरुरी है।

जनसुविधा व पेयजल के लिए दूर जाने से सामान आदि चाेरी हाेने का डर रहता है। आरओ और वाटर कूलर जैसी सुविधा भी नहीं है। इससे यात्री खारा अाैर गर्मियाें में गर्म पानी पीने काे मजबूर हैं। बिल्डिंग के फ्रंट में जाे पाेर्च है, उसकी छत की चाैड़ाई ज्यादा नहीं है। ऐसी स्थिति में यात्रियाें काे खासकर सर्दी और बारिश के सीजन में परेशानी झेलनी पड़ती है। पाेर्च का पूरा एरिया खुला है, जिससे सर्दी में बर्फीली हवा के चलते पाेर्च में बैठना बहुत मुश्किल हाेता है। बचाव के लिए किसी तरह की ओट नहीं हाेने से बारिश के सीजन में भीगना भी पड़ता है। पार्किंग, बुक स्टाॅल, वेटिंग हाॅल, इंक्वायरी विंडाे अादि की भी सुविधा नहीं है। इंक्वायरी विंडाे है, लेकिन उसका टेलीफाेन नंबर नहीं हाेने से यात्रियाें काे बसाें के संचालन की जानकारी के लिए चक्कर काटने पड़ते है। इंक्वायरी विंडाे का टेलीफाेन नंबर जारी किया जाए ताे अाम लाेग घर बैठे ही बसाें की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। बसाें के इंतजार में ज्यादातर यात्रियाें काे खड़ा रहना पड़ता है। बैठने के लिए कुर्सियां कम और यात्री ज्यादा हाेते हैं। इसके बावजूद जिम्मेदाराें का यात्रियाें की सुविधा की तरफ काेई ध्यान नहीं है।

परिसर में कचरे की भरमार रात 8 बजे लग जाते हैं ताले
केंद्रीय बस स्टेंड में बसें प्रवेश करती हैं ताे उससे धूल-मिट्टी उड़ती है। इससे यात्रियाें काे परेशानी झेलनी पड़ती है। गर्मी के सीजन में आंधी से भी यात्रियाें काे दाे-चार हाेना पड़ता है। परिसर चाैतरफा से कच्चा है, वह भी समतल नहीं है। इससे यात्रियाें काे नावे में बैठने जैसा आभास हाेता है। वहीं रात 8 बजे केंद्रीय बस स्टेंड पर ताले जड़ दिए जाते हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ऊर्जा तथा आत्मविश्वास से भरपूर दिन व्यतीत होगा। आप किसी मुश्किल काम को अपने परिश्रम द्वारा हल करने में सक्षम रहेंगे। अगर गाड़ी वगैरह खरीदने का विचार है, तो इस कार्य के लिए प्रबल योग बने हुए...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser