पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

हादसा:निर्माणाधीन मकान की छत ढही, दो मजदूरों की मौत, दो घायल

दौसाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • लापरवाही सिंगवाड़ा रोड बाइपास के समीप मुर्शिद नगर में गुमटी के डिजाइन की इंटों को हटाते समय हादसा
Advertisement
Advertisement

सिंगवाड़ा रोड बाइपास के समीप मुर्शिद नगर में बुधवार दोपहर निर्माणाधीन मकान में गुमटी की डिजाइन बनाने के लिए लगाई गई ईंटें हटाते ही छत भरभराकर गिर गई। इससे दो मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई तथा एक मजदूर घायल हो गया। हादसे के बाद कोहराम मच गया। मुर्शिद नगर में एक मकान का निर्माण चल रहा था। मकान पर तीन दिन पूर्व लैंटर डालकर गुमटी के लिए डिजाइन बनाई थी। बुधवार को ठेकेदार नारायण बैरवा के मजदूर ईंट हटा रहे थे। इस दौरान छत भरभरा कर गिर गई। इससे वहां काम कर रहे हापावास निवासी रामकिशन बैरवा उर्फ छोटेलाल (32), उसका चचेरा भाई महेश बैरवा (23) व हरकेश बैरवा मलबे में दब गए। आवाज सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे तथा मजदूरों को निकालने में जुट गए। लोगों ने एक घायल को बाहर निकाला। दो मजदूर मलबे में दबे रह गए। सूचना मिलने पर डीएसपी नरेंद्र इनखिया, कोतवाल राजेश कुमार मीणा जाब्ते के साथ मौके पर पहुुंचे। पुलिस व नगर परिषद की टीम ने दो जेसीबी की सहायता से मलबे में दबे मजदूरों को निकालकर जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां रामकिशन उर्फ छोटेलाल व महेश को मृत घोषित कर दिया। घायल हरकेश का  जिला अस्पताल में उपचार चल रहा है। दो जेसीबी की मदद से एक घंटे बाद दो श्रमिकों को निकाला छत गिरने से तीन मजदूर मलबे में दबे रह गए। लोगों ने उन्हें निकालने की भरसक कोशिश की। इस दौरान हडकंप मच गया। हादसे का पता चलने पर आसपास के लोग एकत्रित हो गए तथा मजदूरों को निकालने में जुट गए। लोगों ने एक मजदूर को बाहर निकाल लिया, लेकिन दो मजदूर छत के नीचे दबे रहे। इस पर लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस व नगर परिषद की टीम ने दो जेसीबी की मदद से मजदूरों को बाहर निकालकर जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां उनको मृत घोषित कर दिया। एक मजदूर का उपचार चल रहा है।
हापावास में शोक, घर में कोहराम
पापडदा।
ग्राम हापावास निवासी दो चचेरे भाइयों की दौसा में मकान की छत के नीचे दबने से हुई मौत के बाद घर में कोहराम मच गया व गांव में शोक की लहर दौड गई। सरपंच रामधन मीणा ने बताया कि महेश पुत्र कल्याण बैरवा व रामकिशन पुत्र कान्हा राम बैरवा दौसा में आरसीसी की छत के बल्ली फंटे हटाते वक्त छत ही टूटकर गिर गई। दोनों मृतकों की शादी गत डेढ वर्ष पूर्व हुई थी। जिसमें मृतक रामकिशन के एक पुत्र जो अभी 8 माह का ही है।  वहीं मृतक महेश के पिता की चार वर्ष पहले मौत हो चुकी है। रामकिशन की मां व पत्नी रो-रो कर बेसुध हो रही थी। कोतवाल राजेश कुमार मीणा का कहना है कि इस मामले में मृतक रामकिशन बैरवा के पिता कानाराम ने मकान मालिक व ठेकेदार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement